एक स्कूल ऐसा जो बारिश में बन जाता है कीचड़ का तालाब

0
195

जम्मू

स्कूली शिक्षा को बेहत्तर बनाने के सरकारी दावे कई बार हकीकत को भी शर्मसार कर जाते हैं। सामने जो दिखता है वो बातों और दावों से कहीं परे और कड़वा होता है। ऐसा ही एक मामला है पुंछ के सूरनकोट का। सरकारी स्कूल लारी वाला सांगल एक ऐसा स्कूल है जो बारिश के दिनों में कीचड़ से सने तालाब जैसा दिखता है। बैठने की बात तो दूर साहब, बच्चों को खड़े होने की जगह भी नहीं मिलती है।

इस स्कूल का काम वर्ष 2014 में शुरू किया गया था पर पांच वर्ष के बाद अभी तक काम अधूरा है। बारिश के दिन स्कूल में किसी राष्ट्रीय त्यौहार की छुट्टी जैसे होते हैं क्योंकि स्कूल पानी से भर जाता है और बच्चों को उस दिन घर ही बैठना पड़ता है। स्कूल में पढऩे वाले बच्चों की संख्या 31 है। स्थानीय लोगों का कहना है कि इन सभी बच्चों का भविष्य सुनहरा नहीं बल्कि अंधकार में हैं क्योंकि स्कूल खुद अंधकार में है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here