8.7 C
Munich
Tuesday, March 5, 2024

मंदिर में प्रवेश नहीं मिलने के बाद धरने पर बैठे राहुल गांधी, कही ये बात – India TV Hindi

Must read


Image Source : PTI
मंदिर में प्रवेश नहीं मिलने के बाद धरने पर बैठे राहुल गांधी।

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी पूर्वोत्तर के राज्यों में भारत जोड़ो न्याय यात्रा निकाल रही है। कुछ जगहों पर कथित तौर पर कांग्रेस नेताओं के ऊपर हमले की भी खबर सामने आई है। वहीं आज भी राहुल गांधी के एक मंदिर में प्रवेश करने को लेकर काफी देर तक हंगामा होता रहा है। मंदिर में नहीं जाने से नाराज कांग्रेस सांसद राहुल गांधी धरने पर बैठ गए हैं। इसके साथ ही राहुल गांधी ने सरकार पर भी कई सारे सवालिया निशान खड़े किए हैं। 

शंकरदेव मंदिर गए थे राहुल गांधी

बता दें कि असम के नगांव जिले में स्थित वैष्णव संत शंकरदेव के जन्मस्थान पर जाने के लिए राहुल गांधी वहां पहुंचे हुए थे। लेकिन उन्हें बाहर ही रोक दिया गया। इस पर राहुल गांधी ने कहा कि प्राधिकारी उन्हें नगांव स्थित श्री श्री शंकरदेव मंदिर में जाने की अनुमति नहीं दे रहे हैं। राहुल गांधी ने असम के नगांव स्थित मंदिर में जाने से रोके जाने पर नाराजगी जाहिर करते हुए प्राधिकारियों से पूछा कि क्या अब यह प्रधानमंत्री मोदी तय करेंगे कि मंदिर में कौन जाएगा? हम कोई समस्या पैदा नहीं करना चाहते, केवल मंदिर में पूजा करना चाहते हैं। वहीं मंदिर में जाने से रोके जाने के बाद राहुल गांधी कांग्रेस के अन्य नेताओं के साथ धरने पर बैठ गए।

कांग्रेस ने सरकार पर लगाए आरोप

वहीं असम में ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ के काफिलों पर हो रहे कथित हमलों को लेकर कांग्रेस ने घोषणा की है कि वह इन हमलों के विरोध में सोमवार शाम को देश भर में प्रदर्शन करेगी। रविवार को देर रात सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने आरोप लगाया कि असम में यात्रा के प्रवेश करने के बाद से ‘‘भारत में सबसे भ्रष्ट मुख्यमंत्री अपने गुंडों का इस्तेमाल कर हमारे काफिलों, संपत्ति और नेताओं पर लगातार हमले कर रहे हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘यह एक ऐसा मामला है जिसे हर भारतीय को गंभीरता से लेना चाहिए क्योंकि यह भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के फासीवाद और गुंडागर्दी को उजागर करता है। पूरे भारत में सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं को निर्देश दिया जाता है कि वे कल शाम बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन करें और उजागर करें कि कैसे (नरेन्द्र) मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा असम में अपने मुख्यमंत्री हिमंत विश्व शर्मा के माध्यम से लोकतंत्र की हत्या कर रही है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक न्याय के लिए हमारी लड़ाई निरंतर जारी रहेगी।’’ 

पहले भी हुए कथित हमले

दरअसल, इससे पहले भी असम के सोनितपुर जिले में असम कांग्रेस प्रमुख भूपेन कुमार बोरा पर कथित तौर पर हमला किया गया जबकि कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश की कार को निशाना बनाया गया। वहीं अब कांग्रेस नेता राहुल गांधी को भी रविवार शाम असम के नगांव जिले में सड़क किनारे एक भोजनालय में भीड़ ने घेर लिया। भीड़ ने वायनाड सांसद के खिलाफ नारे लगाए और सामागुरी कांग्रेस विधायक रकीबुल हुसैन का जिक्र करते हुए ‘अन्याय यात्रा’ और ‘रकीबुल वापस जाओ’ जैसे नारे लिखी तख्तियां भी दिखाई थी। 

यह भी पढ़ें- 

Ayodhya Traffic Advisory Today: अयोध्या में किन वाहनों को मिलेगी एंट्री, शहर में इन जगहों पर हुई पार्किंग की व्यवस्था

प्राण प्रतिष्ठा से लेकर अयोध्या में सार्वजनिक सभा तक, जानें क्या होगा आज पीएम मोदी का शेड्यूल

Latest India News





Source link

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article