4.3 C
Munich
Thursday, April 18, 2024

केंद्रीय मंत्री शोभा बोलीं- स्टालिन तुष्टिकरण की राजनीति करते हैं: कहा- रामेश्वर कैफे के हमलावर ने कृष्णागिरि के जंगल में ट्रेनिंग ली

Must read


  • Hindi News
  • National
  • Hanuman Chalisa Bengaluru Case Rameshwaram Cafe Blast Shobha Karandlaje Mk Stalin

बेंगलुरु32 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

19 मार्च को बीजेपी ने बेंगलुरु में दुकानदार को पीटे जाने के विरोध में प्रदर्शन किया।

बेंगलुरु में हनुमान चालीसा चलाने पर दुकानदार के साथ मारपीट की बीजेपी विरोध कर रही है। 19 मार्च को केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण राज्य मंत्री बीजेपी नेता शोभा करंदलाजे ने राज्य सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया।

उन्होंने रामेश्वरम कैफे विस्फोट का मुद्दा भी उठाया और कहा कि- हमलावर को तमिलनाडु के कृष्णागिरि जंगलों में आपकी (स्टालिन की) नाक के नीचे प्रशिक्षित किया गया था। उनके इस दावे के बाद तमिलनाडु सीएम एमके स्टालिन ने शोभा की टिप्पणी की निंदा की।

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में शोभा ने कहा, ”तमिलनाडु के लोग यहां आते हैं, प्रशिक्षण लेते हैं और यहां बम लगाते हैं। एक्स पर करंदलाजे के वायरल वीडियो को रीट्वीट करते हुए मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने उनकी टिप्पणी की निंदा की और भाजपा नेता के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग की। वहीं, करंदलाजे ने पलटवार करते हुए कहा कि स्टालिन तुष्टिकरण की राजनीति करते हैं।

‘शोभा के दावे लापरवाह हैं’
स्टालिन ने शोभा के दावों को लापरवाह करार दिया और कहा कि केवल NIA या मामले से करीबी तौर पर जुड़े किसी व्यक्ति को ही कोई टिप्पणी करने का अधिकार होना चाहिए। स्पष्ट रूप से उनके (शोभा) पास इस तरह के दावों का अधिकार नहीं है। तमिल और कन्नडिगा समान रूप से भाजपा की इस विभाजनकारी बयानबाजी को खारिज कर देंगे। मैं शांति, सद्भाव और राष्ट्रीय एकता के लिए खतरा पैदा करने के लिए शोभा के खिलाफ उचित कानूनी कार्रवाई का भी आग्रह करता हूं।

स्टालिन ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री से लेकर कैडर तक भाजपा में सभी को तुरंत इस गंदी विभाजनकारी राजनीति में शामिल होना बंद कर देना चाहिए। ECI को इस नफरत भरे भाषण पर ध्यान देना चाहिए और तुरंत कड़ी कार्रवाई शुरू करनी चाहिए।

‘स्टालिन तुष्टिकरण की राजनीति करते हैं’
स्टालिन की आलोचना के बाद शोभा ने एक्स पर एक पोस्ट करते हुए NIA की हालिया जांच का हवाला देते हुए कहा, “मिस्टर स्टालिन आपके शासन में तमिलनाडु का क्या हो गया है? आपकी तुष्टिकरण की राजनीति ने कट्टरपंथी तत्वों को दिन-रात हिंदुओं और भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले करने के लिए प्रोत्साहित किया है। ISIS जैसे आतंकी संगठनों की वाले बम विस्फोट लगातार तब होते हैं जब आप आंखें मूंद लेते हैं।

शोभा ने आगे कहा कि, “आपकी(स्टालिन) जानकारी के लिए बता दूं कि रामेश्वरम के हमलावर को आपकी नाक के नीचे कृष्णागिरी के जंगलों में प्रशिक्षित किया गया था।

वहीं, शोभा ने कहा कि तमिल मक्कल का कर्नाटक के साथ सौहार्दपूर्ण संबंधों का एक लंबा इतिहास है। उन्होंने यह भी कहा कि तमिल मक्कल कर्नाटक के सामाजिक ताने-बाने का एक अभिन्न अंग रहा है, जो राज्य में बहुत बड़ा योगदान देता है।

विवाद के बाद करंदलाजे ने तमिल लोगों ने माफी मांगी
वहीं, तमिल लोगों पर दिए अपने बयान पर शोभा ने बाद में मांफी भी मांगी। उन्होंने कहा कि “मैं यह स्पष्ट करना चाहती हूं कि मेरे शब्द प्रकाश डालने के लिए थे न की छुपाने के लिए। फिर भी मेरी टिप्पणियों से कुछ लोगों को दुख पहुंचा है और इसके लिए मैं माफी मांगती हूं। मेरी टिप्पणियां पूरी तरह से कृष्णागिरी जंगल में प्रशिक्षित लोगों के लिए थीं। रामेश्वरम कैफे विस्फोट से जुड़ा हुआ। प्रभावित किसी भी व्यक्ति से मैं मैं दिल की गहराई से माफी मांगती हूं। मैं अपनी पिछली टिप्पणियों को वापस लेती हूं।

जानिए क्या पूरा मामला
कर्नाटक के बेंगलुरु में नागरथपेट में अजान के दौरान दुकान में हनुमान चालीसा बजाने को लेकर व्यापारी की पिटाई करने के मामले में विवाद जारी है। मंगलवार को सैकड़ों लोगों ने सड़क पर उतरकर प्रदर्शन किया। BJP सांसद तेजस्वी सूर्या भी प्रदर्शन में शामिल हुए। बेंगलुरु पुलिस ने बताया कि मामले में पांच लोग गिरफ्तार किया जा चुका है। पूरी खबर पढ़ें

यह खबर भी पढ़ें

बेंगलुरु का रामेश्वरम कैफे ब्लास्ट के 8 दिन बाद खुला: रेस्टोरेंट मालिक बोले- सभी एहतियाती उपाय किए, एक व्यक्ति को निगरानी के लिए रखेंगे​​​​​​​

कर्नाटक के बेंगलुरु में फेमस रामेश्वरम कैफे शनिवार (9 मार्च) को आम लोगों के लिए खुल गया है। यहां 1 मार्च को IED ब्लास्ट हुआ था, जिसमें 10 लोग घायल हुए थे। घटना के बाद से कैफे बंद था। कैफे के को-फाउंडर राघवेंद्र राव ने कहा कि भविष्य में ऐसी घटनाओं से बचने के लिए हम सुरक्षा के सभी उपाय कर रहे हैं। पूरी खबर पढ़ें

​​​​​​​ब्लास्ट के तार ISIS से जुड़े, 5 मार्च को NIA ने 7 राज्यों में छापेमारी की

रामेश्‍वरम कैफे ब्लास्ट के तार आतंकी संगठन ISIS से जुड़ गए हैं। NIA ने मंगलवार को मामले में 7 राज्यों में 17 ठिकानों पर छापेमारी की। NIA की टीम ने बेंगलुरु के ​​​​​आरटी नगर में टी नजीर के घर पर छापा मारा। टी नजीर के ISIS से जुड़े होने का शक है। उसने कथित तौर पर कैफे ब्लास्ट के लिए आतंकवादियों को उकसाया था।​​​​​​​ पूरी खबर पढ़ें

खबरें और भी हैं…



Source link

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article