10 C
Munich
Tuesday, April 16, 2024

कोलकाता बिल्डिंग हादसे में 10 की मौत: 17 लोग गंभीर घायल, 2 लोग भी लापता; कांग्रेस बोली- मेयर की गिरफ्तारी हो

Must read


कोलकाता35 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

इमारत के ढहने की घटना में 17 लोग घायल हुए हैं। इनमें से कुछ की हालत गंभीर है। हादसा 17 मार्च की रात हो हुआ था।

पश्चिम बंगाल के कोलकाता में 17 मार्च की देर रात निर्माणाधीन 5 मंजिला इमारत ढह गई थी। बीते तीन दिनों से रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। मंगलवार को भी एक शव बरामद किया गया। अब तक 10 लोगों के शव मिल चुके हैं। 2 लोग लापता बताए जा रहे हैं। इस हादसे में 17 लोग घायल हुए हैं। रेस्क्यू अभी भी जारी है। मौके पर पुलिस और प्रशासन की टीम मौजूद है।

कोलकाता के गार्डन रीच इलाके में हुए इस हादसे के बाद से राज्य आपदा प्रबंधन विभाग, NDRF, अग्निशमन विभाग, कोलकाता पुलिस की डिजास्टर मैनेजमेंट ने मंगलवार सुबह फिर से रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया था।

पुलिस के मुताबिक, रात 8 बजे जिस व्यक्ति को रेस्क्यू किया गया था उसे तत्काल SSKM ले जाया गया। लेकिन वहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस का कहना है कि मृतक मुर्शिदाबाद का रहने वाला था और राजमिस्त्री का काम करता था।

सोमवार सुबह CM ममता बनर्जी हादसे वाली जगह पर पहुंचीं थीं।

सोमवार सुबह CM ममता बनर्जी हादसे वाली जगह पर पहुंचीं थीं।

14 दिन की रिमांड में बिल्डर, जमीन का मालिक भी गिरफ्तार
पुलिस के मुताबिक, इमारत के बिल्डर को गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं, जिस जमीन पर इमारत खड़ी की जा रही थी उसके मालिक को भी मंगलवार रात गिरफ्तार किया गया। अवैध तरीके से इस इमारत का निर्माण कराया जा रहा था। बिल्डर को 14 दिन की पुलिस रिमांड में भेजा गया है।

अधिकारियों का कहना है कि घटना स्थल के आस-पास सकरी गलियां हैं। जिससे परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। कंक्रीट के स्लैब को मशीनों के जरिए काटा जा रहा है। भीड़भाड़ वाला इलाका होने के चलते बड़ी मशीनों का उपयोग नहीं कर पा रहे हैं। छोटी मशीनों का उपयोग किया जा रहा है।

अधिकारियों ने कहा कि मरने वालों में दो स्थानीय महिला भी शामिल हैं। 17 घायलों का अस्पताल में इलाज जारी है। कुछ की हालत गंभीर बनी हुई है।

तस्वीर हादसे के तुरंत बाद की है। घटना स्थल पर अभी भी रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है।

तस्वीर हादसे के तुरंत बाद की है। घटना स्थल पर अभी भी रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है।

बिल्डिंग पास में बनी झुग्गी झोपड़ियों पर गिर पड़ी, जिससे वहां सो रहे लोग दब गए थे।

बिल्डिंग पास में बनी झुग्गी झोपड़ियों पर गिर पड़ी, जिससे वहां सो रहे लोग दब गए थे।

कांग्रेस ने कोलकाता मेयर पर लगाए आरोप
कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने इस हादसे के लिए कोलकाता मेयर को जिम्मेदार बताया। साथ ही कहा कि मेयर फिरहाद हकीम को नैतिक आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए।

चौधरी ने कहा कि CM ममता ने मेयर को बर्खास्त नहीं किया। मेयर को गिरफ्तार किया जाना चाहिए। कोलकाता मेयर पर राज्य के शहरी विकास मंत्री भी हैं।

चौधरी ने कहा है कि तालाब को भरकर उसपर इमारत इमारत बनाई जा रही थी। हकीम ने अपराध किया है। उनके खिलाफ कोई कार्रवाई क्यों नहीं की जाएगी? अगर उनमें जरा भी नैतिकता है तो उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि ऐसे बिल्डर TMC के लिए आय का स्रोत बन गए हैं। TMC कोलकाता के नागरिकों के भविष्य के साथ खेल रही है।

स्थानीय लोगों ने अवैध निर्माण का आरोप लगाया
पुलिस के मुताबिक, जो बिल्डिंग गिरी, वहां पिछले छह महीने से निर्माण का काम चल रहा था। ​​​​​​स्थानीय लोगों का आरोप है कि कोलकाता नगर निगम और पुलिस की अनुमति के बिना कंस्ट्रक्शन हो रहा था।

घटना को लेकर भाजपा विधायक और विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर पोस्ट किया। उन्होंने हादसे की तस्वीरें शेयर करते हुए लिखा- मेटियाब्रुज स्थित गार्डन रीच एरिया में हजारी मोल्ला बागान में अवैध रूप से निर्मित एक 5 मंजिला इमारत ढह गई है। यह क्षेत्र कोलकाता के मेयर और नगरपालिका मामलों के मंत्री का गढ़ है।

खबरें और भी हैं…



Source link

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article