3.6 C
Munich
Saturday, February 24, 2024

राष्‍ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के अभिभाषण के साथ शुरू हुआ बजट सत्र, जानें क्या कहा – India TV Hindi

Must read


Image Source : SANSAD TV
राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू

नई दिल्ली: संसद में आज से बजट सत्र की शुरुआत हो गई है। इसकी शुरुआत राष्‍ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के अभिभाषण के साथ हुई। राष्ट्रपति ने कहा कि नए सदन में उनका यह पहला संबोधन है। यहां संसदीय परंपराओं का गौरव और एक भारत, श्रेष्ठ भारत की महक है।

तेजी से विकसित हो रहा भारत: राष्ट्रपति

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने कहा कि दुनिया में गंभीर संकटों के बावजूद भारत तेजी के साथ विकसित हो रहा है। मेरी सरकार कई महत्वपूर्ण विधेयक लेकर आई है। ये कानून विकसित भारत की सिद्धि की मजबूत पहल हैं। क्रिमनल जस्टिस सिस्टम अब इतिहास बन गया है।

उन्होंने कहा कि 25 करोड़ भारतीय गरीबी रेखा से बाहर आए हैं। तीन तलाक के खिलाफ सरकार ने कड़े कानून बनाए हैं। भारत चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर झंडा फहराने वाला पहला देश बना है और G20 की सफलता ने पूरी दुनिया में भारत की भूमिका को सशक्त किया है।

नारी शक्ति वंदन अधिनियम, राम मंदिर और नौकरी को लेकर कही ये बात

राष्ट्रपति ने कहा कि राम मंदिर के निर्माण का इंतजार सालों से था लेकिन अब ये पूरा हुआ। जिस समय राष्ट्रपति ने राम मंदिर का जिक्र किया, उस वक्त सदन में खूब तालियां बजीं। पीएम मोदी और शाह समेत तमाम सीनियर नेताओं ने मेज भी थपथपाई।

इस दौरान राष्ट्रपति ने नारी शक्ति वंदन अधिनियम का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि मेरी सरकार ने लाखों युवाओं को सरकारी नौकरी दी है। नारी शक्ति अधिनियम से लोकसभा राज्यसभा में महिलाओं का पार्टिसिपेशन बढ़ेगा।

स्टार्टअप, जीएसटी, एशियाई खेलों, 5जी, आरटीआई और अनुच्छेद 370 का जिक्र

राष्ट्रपति ने कहा कि अनुच्छेद 370 पर आशंकाएं इतिहास बन चुकी हैं। एशियाई खेलों में भारत ने 100 से ज्यादा मेडल जीते हैं। आरटीआई फाइल करने वालों की संख्या बढ़ी है। पहले ये सवा तीन करोड़ थी, जो अब बढ़कर 8 करोड़ से ज्यादा हो गई है। 

इसके अलावा भारत 5जी रोल आउट करने वाला पहला देश बन गया है। राष्ट्रपति ने कहा कि आज एक लाख से ज्यादा स्टार्टअप हैं और एक करोड़ 40 लाख लोग जीएसटी दे रहे हैं।

मेक इन इंडिया, डिजिटल इंडिया,एक देश-एक टैक्स कानून और बैंकों की बात 

राष्ट्रपति ने मेक इन इंडिया, डिजिटल इंडिया, एक देश-एक टैक्स कानून और बैंकों की बात की। उन्होंने कहा कि एक देश-एक टैक्स कानून आया है और बैंकिंग सिस्टम मजबूत हुआ है। पहले की तुलना में एफडीआई दोगुना हो गया है। बैंकों का एनपीए घटकर 4 प्रतिशत रह गया है।

ईज ऑफ डुइंग बिजनेस, निजी कंपनियों की रक्षा क्षेत्रों में भागीदारी पर कही ये बात

उन्होंने कहा कि निजी कंपनियों की रक्षा क्षेत्रों में भागीदारी बढ़ी है। हम खिलौने निर्यात कर रहे हैं। ईज ऑफ डुइंग बिजनेस में सुधार आया है। बिजनेस करना आसान हुआ है और उसकी वजह डिजिटल इंडिया है। 

उन्होंने ये भी कहा कि बाकी देश भी आज यूपीए से ट्रांजेक्शन की सुविधा दे रहे हैं। 2 करोड़ फर्जी लाभार्थी सिस्टम से बाहर हुए हैं।

राष्ट्रपति ने बताए विकसित भारत के 4 स्तंभ

राष्ट्रपति ने विकसित भारत के 4 स्तंभ बताए हैं। उन्होंने कहा है कि विकसित भारत की भव्य इमारत 4 स्तंभ पर खड़ी हो सकती है। ये 4 स्तंभ युवा शक्ति, नारी शक्ति, किसान शक्ति और गरीब वर्ग है।

महंगाई, विकास दर, डिजिलॉकर की बात, सरकार की आर्थिक नीति की तारीफ की

राष्ट्रपति ने सरकार की आर्थिक नीति की जमकर तारीफ की है। उन्होंने कहा कि दूसरी तिमाही में देश की विकास दर 7.5 फीसदी रही है। महंगाई काबू में रही है और लोगों पर इसका बोझ नहीं बढ़ा है। 

इंफ्रास्क्ट्रचर,रेलवे और 34 लाख करोड़ की बात

राष्ट्रपति ने कहा कि सीधे लाभार्थियों के खाते में सरकार द्वारा 34 लाख करोड़ रुपए डाले गए हैं। भारत में दुनिया का 46 प्रतिशत लेनदेन डिजिटल है। वन विभाग से क्लीयरेंस लेने में बहुत कम समय लगता है। महज 75 दिन लगते हैं। उन्होंने कहा कि इंफ्रास्क्ट्रचर में रिकॉर्ड निवेश हुआ है और रेलवे में भी नए आयाम छुए गए हैं। 

कॉपी अपडेट हो रही है…

Latest India News





Source link

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article