12 C
Munich
Sunday, March 3, 2024

“नीतीश कुमार और गिरगिट में कोई अंतर नहीं”, सुशासन बाबू के फिर से पलटने पर किस नेता ने क्या कहा? यहां जानें – India TV Hindi

Must read


Image Source : SOCIAL MEDIA
नीतीश कुमार

बिहार की राजनीति काफी गरमाई हुई है। नीतीश कुमार एक बार फिर से पलट गए हैं। आज उन्होंने राजभवन पहुंचकर अपना इस्तीफा राज्यपाल को सौंप दिया। नीतीश कुमार के एक बार फिर से पलटने पर बिहार में सियासी भूचाल आ गया है। इसे लेकर राजद और कांग्रेस के कई नेताओं के बयान सामने आ रहे हैं। कोई उन्हें गिरगिट कह रहा है तो कोई उन्हें पलटूराम बता रहा है। कई लोगों का मानना है कि नीतीश कुमार की राजनीति अब खत्म होने वाली है। बिहार में 2025 में होने वाले विधानसभा चुनाव में उनका पत्ता साफ हो जाएगा। कुछ नेताओं का कहना है कि जब नीतीश कुमार NDA को छोड़कर महागठबंधन में शामिल हुए थे तभी ये तय हो गया था कि एक दिन ये आदमी फिर से पलटी मारेगा।

उनका हमेशा सम्मान करेंगे- तेजस्वी यादव 

नीतीश को चचा कहने वाले बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार के पलटने पर कहा कि “सीएम नीतीश कुमार आदरणीय थे और हैं। कई चीजें नीतीश कुमार के नियंत्रण में नहीं हैं। ‘महागठबंधन’ में राजद के सहयोगी दलों ने हमेशा मुख्यमंत्री का सम्मान किया है।”

सत्ता सहित उनका भी अंत जल्द होगा- तेज प्रताप यादव 

राजद के नेता और लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने भी नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया और कहा कि नीतीश कुमार सत्ता में रहने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं। उनका कोई भाव नहीं है। एक दिन उनका और उनकी सत्ता का भी अंत हो जाएगा।

नीतीश कुमार गिरगिट से कम नहीं हैं- जयराम रमेश

इधर, कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने भी नीतीश कुमार पर तंज कसा और ट्वीट करते हुए लिखा- बार-बार राजनीतिक साझेदार बदलने वाले नीतीश कुमार रंग बदलने में गिरगिटों को कड़ी टक्कर दे रहे हैं। इस विश्वासघात के विशेषज्ञ और उन्हें इशारों पर नचाने वालों को बिहार की जनता माफ़ नहीं करेगी। बिलकुल साफ़ है की भारत जोड़ो न्याय यात्रा से प्रधानमंत्री और भाजपा घबराए हुए हैं और उससे ध्यान हटाने के लिए यह राजनीतिक ड्रामा रचा गया है।

जयराम रमेश ने न्यूज एजेंसी ANI से कहा- ”…नीतीश कुमार ने 23 जून 2023 को पटना में विपक्षी दलों की पहली बैठक बुलाई। दूसरी बैठक 17-18 जुलाई 2023 को बेंगलुरु में बैठक हुई। उसके बाद 31 अगस्त-1 सितंबर 2023 को मुंबई में बैठक हुई। तीनों बैठकों में नीतीश कुमार का योगदान रहा, तो हम मानकर चल रहे थे कि वे भाजपा के खिलाफ लड़ेंगे, भाजपा की विचारधारा को हराने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे…”

जनता ने पहली बार ऐसी पलटीमार सरकार देखा है- RJD नेता मृत्युंजय तिवारी

बिहार में वर्तमान राजनीतिक स्थिति पर RJD नेता मृत्युंजय तिवारी ने कहा, “अब तो जनता भी कह रही है कि देखा है पहली बार ऐसी पलटीमार सरकार। अब जो भी होगा जनता सब देख रही है…नीतीश कुमार के साथ तेजस्वी यादव जब सरकार में उपमुख्यमंत्री बनें, तो 15 महिनों के कामों को कोई नहीं भुला सकता। यह हमारी उपलब्धि है, आगे जो भी होगा उसका सामना किया जाएगा।”

लालू की बेटी का दिखा गुस्सा

नीतीश कुमार के पलटी मारने से नाराज लालू की बेटी रोहिणी आचार्य ने उनकी तुलना कूड़े से की है। उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर ट्वीट करते हुए लिखा- कूड़ा गया फिर से कूड़ेदानी में, कूड़ा-मंडली को बदबूदार कूड़ा मुबारक।

तेजस्वी और लालू ने इसके संकेत पहले ही दिए थे-  मल्लिकार्जुन खरगे

बिहार के मुख्यमंत्री पद से नीतीश कुमार के इस्तीफे पर कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने कहा, “बिहार के उपमुख्यमंत्री (तेजस्वी यादव) और लालू प्रसाद यादव ने इस बारे में संकेत दिया था और आज यह सच हो गया। ‘ऐसे देश में बहुत सारे लोग हैं, आया राम गया राम’।”

BJP बिहार में जंगलराज को नहीं रहने देना चाहती- गिरिराज सिंह 

नीतीश कुमार के इस्तीफा देने के बाद भाजपा के खेमे में खुशी की लहर दौड़ पड़ी है। इसे लेकर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा, “नीतीश कुमार को मैं धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने इस्तीफा दे दिया। उनकी जो भी मजबूरी रही लेकिन बिहार पेशोपेश में था, डेढ़ साल में बिहार में जंगलराज 2 की स्थिति आ गई थी। अगर तेजस्वी यादव की ताजपोशी हो जाती तो बड़ी कठिनाई होती। भाजपा जंगलराज नहीं आने देगी।”

नीतीश कुमार की राजनीति का अंत होने वाला है- भाजपा सांसद दिलीप घोष

बिहार में वर्तमान राजनीतिक स्थिति पर भाजपा सांसद दिलीप घोष ने कहा, “मुझे लगता है कि उनका (नीतीश कुमार) राजनीति का अंत आ रहा है। वह बीजेपी में शामिल होंगे या नहीं, बीजेपी उन्हें स्वीकार करेगी या नहीं, वो तय किया जाएगा। हम तो बस इंतजार कर रहे हैं कि क्या होगा…”

इस्तीफा देने पर सुशील मोदी ने दी बधाई


उधर, भाजपा नेता सुशील मोदी ने नीतीश कुमार के इस्तीफा देने पर उन्हें बधाई दी है। 

अखिलेश यादव नहीं चाहते कि नीतीश कुमार INDIA गठबंधन में रहें- ओपी राजभर

नीतीश कुमार के पलटा मारने को लेकर सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (SBSP) के प्रमुख ओपी राजभर ने कहा, “विरोधियों ने ठाना है कि 2024 में मोदी जी को प्रधानमंत्री बनाना है और उसी का नतीजा बंगाल में दिखा जिसकी शुरुआत ममता बनर्जी ने की, फिर बिहार में दिखा। इसके दोषी अखिलेश यादव हैं, वे नहीं चाहते कि नीतीश कुमार INDIA गठबंधन में रहें। यह तय है कि सभी विपक्ष के लोग चाहते हैं कि PM मोदी फिर से प्रधानमंत्री बनें।”

नीतीश और लालू की जोड़ी कभी नहीं जमेगी- बाबूलाल मरांडी

भाजपा के साथ नीतीश कुमार के हाथ मिलाने पर झारखंड भाजपा अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने कहा, “जब नीतीश कुमार लालू यादव के साथ मिल गए थे तभी लग रहा था कि यह संबंध ज्यादा नहीं चल पाएगा और आज यह साबित हुआ क्योंकि नीतीश कुमार और लालू यादव की देश में अलग-अलग पहचान है, एक नॉर्थ पोल तो दूसरा साउथ पोल है। दरवाज़ा जो बंद होता है वह खुलता भी है।”

ये भी पढ़ें:

बिहार की सियासत में हड़कंप, नीतीश कुमार ने CM पद से इस्तीफा दिया, वजह भी बताई

एक CM और 2 डिप्टी सीएम का फॉर्मूला तय, BJP कोटे से सम्राट चौधरी और विजय सिन्हा को अहम जिम्मेदारी

 

Latest India News





Source link

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article