4.2 C
Munich
Friday, April 19, 2024

कर्नाटक के पूर्व डिप्टी CM ईश्वरप्पा की भाजपा से बगावत: येदियुरप्पा के बेटे के खिलाफ लड़ेंगे चुनाव, अपने बेटे को टिकट न मिलने से नाराज

Must read

[ad_1]

बेंगलुरु36 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
कर्नाटक के पूर्व डिप्टी सीएम ईश्वरप्पा ने पूर्व सीएम येदियुरप्पा पर परिवारवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar

कर्नाटक के पूर्व डिप्टी सीएम ईश्वरप्पा ने पूर्व सीएम येदियुरप्पा पर परिवारवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है। (फाइल फोटो)

कर्नाटक में लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा ने 13 मार्च को अपनी दूसरी लिस्ट में 20 उम्मीदवारों का नाम घोषित किए, जिसके बाद पार्टी में विरोध के सुर उठने लगे हैं।

पूर्व डिप्टी CM केएस ईश्वरप्पा हावेरी लोकसभा सीट से अपने बेटे केई कंटेश के लिए टिकट मांग रहे थे, लेकिन पार्टी ने पूर्व सीएम बसवराज बोम्मई को अपना कैंडिडेट बनाया।

इससे नाराज होकर उन्होंने मंगलवार (19 मार्च) को ऐलान किया कि वे खुद पूर्व CM बीएस येदियुरप्पा के बेटे बीवाई विजयेंद्र के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे। भाजपा ने विजयेंद्र को शिवमोगा से टिकट दी है।

येदियुरप्पा के परिवारवाद की राजनीति को बताई बगावत की वजह
ईश्वरप्पा ने न्यूज एजेंसी PTI से इंटरव्यू में कहा- कर्नाटक में भाजपा अच्छी स्थिति में नहीं है। कर्नाटक की जनता और पार्टी के कार्यकर्ता तो भाजपा के पक्ष में हैं, लेकिन यहां की व्यवस्था खराब है।

उन्होंने येदियुरप्पा पर परिवारवाद के आरोप लगाते हुए कहा- मोदी जी कहते हैं कि कांग्रेस पार्टी एक परिवार के हाथ में हैं, लेकिन कर्नाटक भाजपा में भी यही स्थिति है। कर्नाटक भाजपा पर भी एक परिवार का कब्जा है। हमें इसका विरोध करना होगा।

कर्नाटक भाजपा के ये नेता भी कर सकते हैं बगावत

1. डीवी सदानंद गौड़ा

भाजपा नेता और पूर्व मुख्यमंत्री डीवी सदानंद गौड़ा ने पहले लोकसभा चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया था, लेकिन अब वे अचानक चुनाव लड़ने की इच्छा जता रहे हैं। मंगलवार को उन्होंने संकेत दिए कि वे कांग्रेस में शामिल होने पर विचार कर सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक वे आज बुधवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसका ऐलान भी कर सकते हैं। हालांकि, वे कहां से चुनाव लड़ना चाहते हैं इसकी अभी कोई जानकारी नहीं आई है।

2. कराडी संगन्ना

कर्नाटक के कोप्पल से दो बार के भाजपा विधायक कराडी सांगन्ना भी टिकट नहीं मिलने से नाराज हैं। पार्टी ने कोप्पल से डॉ. बसवराज क्यावटोर को कैंडिडेट बनाया है। इससे नाराज संगन्ना ने कहा कि वे कांग्रेस नेताओं के संपर्क में हैं, लेकिन अभी तक कोई फैसला नहीं लिया है।

संगन्ना ने मीडिया से मंगलवार को कहा, “मैं अभी कोई नया फैसला नहीं करने वाला। गुरुवार को हमारी पार्टी के नेताओं के साथ बैठक है। पार्टी में बने रहने या कांग्रेस में शामिल होने के बारे में हमारे नेता जो भी सुझाव देंगे, मैं उसके साथ जाऊंगा।

3. जेसी मधुस्वामी

इसके अलावा भाजपा ने कर्नाटक की तुमकुरु लोकसभा सीट से वी सोमन्ना को मैदान में उतारा है, जिससे कर्नाटक के पूर्व मंत्री जेसी मधुस्वामी नाराज हो गए। मधुस्वामी ने कहा, ” मैं सोमन्ना के लिए काम नहीं करने वाला। मुझे दुख है कि वह (येदियुरप्पा) मेरे लिए खड़े नहीं हुए और मेरी उम्मीदवारी का समर्थन नहीं किया। अब मैं सोच रहा हूं कि इस पार्टी में रहना चाहिए या नहीं।

मधुस्वामी ने कहा- मैं अपने कार्यकर्ताओं के साथ चर्चा करूंगा कि आगे क्या करना है। जब सार्वजनिक जीवन में नेताओं के बीच भ्रम की स्थिति होती है, तो केवल जनता ही बेहतर निर्णय ले सकते हैं। मैं एक बैठक बुलाऊंगा और उनसे पूछूंगा कि आगे क्या करना है।

ये खबरें भी पढ़ें…

भाजपा की पहली लिस्ट- 195 नाम, इनमें 34 मंत्री

2 मार्च को जारी भाजपा की पहली लिस्ट में 16 राज्य और 2 केंद्र शासित प्रदेशों में 195 नाम जारी हुए थे। 34 केंद्रीय मंत्रियों को टिकट मिला। वहीं, सूची में 28 महिलाएं, 27 SC, 18 ST, 57 OBC नाम रहे। 50 साल से कम उम्र के 47 कैंडिडेट थे, जिन्हें पार्टी ने युवा कहा। पूरी खबर पढ़ें…

भाजपा की दूसरी लिस्ट जारी, इसमें 72 नाम

लोकसभा चुनाव के लिए 13 मार्च की शाम भाजपा की दूसरी लिस्ट जारी हुई। इसमें 72 नाम हैं। नागपुर से नितिन गडकरी, मुंबई नॉर्थ से पीयूष गोयल और हमीरपुर से अनुराग ठाकुर को टिकट दिया गया है। एक दिन पहले हरियाणा के मुख्यमंत्री की कुर्सी छोड़ने वाले मनोहर लाल खट्‌टर करनाल से चुनाव लड़ेंगे। पूरी खबर पढ़ें…

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article