4.3 C
Munich
Thursday, April 18, 2024

CJI बोले- सुप्रीम कोर्ट के लिए कोई मामला छोटा नहीं: हम आम नागरिकों के लिए हमेशा मौजूद, अदालतें न्याय देने के लिए बनाई गई

Must read


नई दिल्ली15 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ ने कहा- देश के सर्वोच्च अदालत के लिए कोई मामला छोटा नहीं होता है। सुप्रीम कोर्ट हमेशा भारत के नागरिकों के लिए मौजूद है। चाहे उनकी जाति, धर्म या जेंडर कुछ भी हो। वे सभी के साथ बराबर व्यवहार करते हैं।

चंद्रचूड़ ने बुधवार को NDTV को दिए एक इंटरव्यू में ये बातें कहीं। उन्होंने आगे कहा- मैं यह मैसेज सभी को देना चाहता हूं। हम आम नागरिकों के लिए हमेशा मौजूद हैं।

CJI बोले- आधी रात को ईमेल आते हैं
चंद्रचूड़ ने पुराने मामलों का जिक्र करते हुए कहा- कभी-कभी उन्हें आधी रात को ई-मेल मिलते हैं। एक बार एक महिला थी जिसे मेडिकल अबॉर्शन की जरूरत थी। मेरे स्टाफ ने मुझसे संपर्क किया और हमने अगले दिन एक बेंच का गठन किया।

CJI ने कहा- कई दिल तोड़ने वाले मामले होते हैं जैसे- किसी का घर तोड़ा जा रहा होता है तो किसी को उसके घर से बाहर निकाल दिया जा सकता है। किसी को सरेंडर करना है लेकिन वो बीमार है। ऐसे मामलों पर अदालतें गंभीरता से ध्यान देती हैं।

चीफ जस्टिस ने आगे कहा- हमारा मिशन आम लोगों के साथ खड़ा होना है। हम इससे पूरी तरह से वाकिफ हैं कि चाहे सत्ता में कोई भी हो, आम लोगों को अगर कोई परेशानी है तो अदालत उन्हें कानूनी संरक्षण देने के लिए हरदम तैयार है। हम सभी के साथ समान व्यवहार करते हैं।

छोटे मामलों को भी गंभीरता से लिया जाना चाहिए : CJI
मुख्य न्यायाधीश ने कहा, भारत के लोगों में हम जो काम करते हैं उसमें आस्था और विश्वास की भावना होनी चाहिए। दूसरों के लिए छोटे मुद्दे हमारे लिए बड़े हो सकते हैं। जैसे कि, किसी की पेंशन रुकी हो, किसी के खिलाफ गलत FIR दर्ज हो गई। कोई बेगुनाह सालों से जेल में बंद है। हम इन सभी मामलों को बहुत गंभीरता से लेते हैं।

उन्होंने कहा, भारतीय न्यायपालिका की सबसे बड़ी ताकत यह है कि सुप्रीम कोर्ट, हाईकोर्ट और सभी डिस्ट्रिक्ट कोर्ट लोगों की अदालतें हैं। उन्होंने कहा, ये सभी सभी के लिए न्याय सुनिश्चित करने के लिए बनाए गए हैं।

ये खबर भी पढ़ें…

CJI बोले- वकील साहब धीरे बोलें, वर्ना बाहर कर दूंगा: 23 साल के करियर में ऊंची आवाज से कोई दबा नहीं सका, आगे भी ऐसा नहीं होगा

सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस (CJI) डीवाई चंद्रचूड़ एक वकील पर नाराज हो गए। वकील एक याचिका की लिस्टिंग को लेकर CJI से तेज आवाज में बोल बैठे। इस पर चंद्रचूड़ ने वकील को फटकार लगाते हुए कहा- आप आवाज नीचे करके बात करें, नहीं तो कोर्ट से बाहर करवा दूंगा।​​​​​​​ पढ़ें पूरी खबर…

खबरें और भी हैं…



Source link

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article