3.6 C
Munich
Saturday, February 24, 2024

हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना कौन हैं; जो बन सकती हैं झारखंड की अगली CM? 10 प्वाइंट्स – India TV Hindi

Must read


Image Source : SOCIAL MEDIA
हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना

नई दिल्ली: झारखंड की राजनीति में बड़ी हलचल हो रही है। अटकलें हैं कि हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन को झारखंड का नया सीएम बनाया जा सकता है। गौरतलब है कि ईडी ने सोमवार को हेमंत के दिल्ली स्थित घर की तलाशी ली थी। इस दौरान सोरेन काफी समय तक गायब भी रहे थे, जिसको लेकर खूब सुर्खियां भी बनीं। बीजेपी नेता निशिकांत दुबे ने हालही में ये बयान दिया था कि अगर गिरफ्तारी होती है तो हेमंत सोरेन अपनी पत्नी को सीएम पद पर बिठाने की योजना बना रहे हैं। बता दें कि हेमंत सोरेन आज अपना बयान दर्ज कराने के लिए ईडी के सामने पेश होंगे।

कौन हैं हेमंत की पत्नी कल्पना सोरेन?

  1. कल्पना का कोई राजनीतिक बैकग्राउंड नहीं है। वह मूल रूप से ओडिशा के मयूरभंज जिले से हैं।
  2. कल्पना की हेमंत सोरेन से शादी 7 फरवरी 2006 को हुई थी। कल्पना और हेमंत के 2 बच्चे हैं, जिनका नाम निखिल और अंश है।
  3. कल्पना के पिता एक व्यापारी हैं और उनकी मां हाउसवाइफ हैं। कल्पना भी व्यापार और चैरिटी के काम में शामिल रहती हैं।
  4. मिली जानकारी के मुताबिक, कल्पना स्कूल भी चलाती हैं और ऑर्गेनिक फार्मिक का काम भी करती हैं।
  5. कल्पना ने इंजीनियरिंग और एमबीए की पढ़ाई की है।
  6. कल्पना सोरेन के सीएम बनने के लिए उनका विधायक होना जरूरी है। ऐसे में एक विधायक को अपनी सीट खाली करनी होगी। वहीं कल्पना के सीएम बनने के प्रस्ताव पर हेमंत के भाई बसंत सोरेन और भाभी सीता सोरेन असहमत हैं।
  7. हालांकि, हेमंत के भाई ने किसी भी पारिवारिक कलह से इनकार किया है और कहा है कि झारखंड मुक्ति मोर्चा परिवार एकजुट है। उन्होंने ये भी कहा कि निशिकांत दुबे के परिवार में ही कलह होती रहती है।
  8. दरअसल निशिकांत दुबे ने कहा था कि मंगलवार को झामुमो की बैठक में कम से कम 35 विधायक मौजूद थे, जहां कल्पना सोरेन को अगला मुख्यमंत्री बनाने का प्रस्ताव रखा गया था।
  9. विधायकों ने कथित तौर पर बिना किसी नाम के समर्थन पत्र पर हस्ताक्षर किए क्योंकि ऐसी अटकलें हैं कि मुख्यमंत्री की गिरफ्तारी की स्थिति में उनकी पत्नी कल्पना सोरेन को बागडोर सौंपी जाएगी।
  10. कल्पना सोरेन मंगलवार को रांची में राज्य के मंत्रियों और पार्टी विधायकों की बैठक में मौजूद थीं। ये बैठकें भाजपा के इस दावे के बीच हुईं कि ईडी द्वारा उनके दिल्ली आवास पर नहीं मिलने के बाद हेमंत सोरेन फरार हो गए। हेमंत सोरेन सड़क मार्ग से दिल्ली से रांची पहुंचे और दो बैठकें कीं। हेमंत आज ईडी के सामने अपना बयान दर्ज कराएंगे।

ये भी पढ़ें: 

‘भविष्य में कोई पिता अपने बेटे का नाम नीतीश नहीं रखेगा’, RJD विधायक ने बिहार के सीएम पर बोला हमला

RSS के सरकार्यवाह का चुनाव 15 से 17 मार्च के बीच, बुलाई गई है प्रतिनिधि बैठक

Latest India News





Source link

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article