4.3 C
Munich
Thursday, April 18, 2024

हिमंत सरमा ने लोकसभा चुनाव को बताया फॉर्मेलिटी, दूतावास पर इजरायली हमले से भड़का ईरान, टॉप-5

Must read


ऐप पर पढ़ें

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री गुलाम नबी आजाद अनंतनाग-राजौरी निर्वाचन क्षेत्र से आगामी लोकसभा चुनाव 2024 लड़ेंगे। आजाद ने 2022 में कांग्रेस छोड़ दी थी और पार्टी के साथ अपने पांच दशक लंबे सफर को खत्म कर दिया था। वहीं, तिहाड़ जेल में छह महीने से ज्यादा समय से बंद आम आदमी पार्टी (आप) नेता संजय सिंह को बड़ी राहत मिली है। सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें मंगलवार को जमानत दे दिया है। हालांकि बेल मिलने के बाद भी संजय सिंह की रिहाई की संभावना आज कम है। लाइव हिन्दुस्तान पर पढ़िए मंगलवार की टॉप-5 न्यूज…

लोकसभा चुनाव से पहले बड़ा ऐक्शन, 5 जिलाधिकारियों और 12 एसपी का तबादला 

लोकसभा चुनाव से ठीक पहले भारत निर्वाचन आयोग (ECI) ने बड़ा कदम उठाया है। 5 राज्यों असम, बिहार, ओडिशा, झारखंड और आंध्र प्रदेश में 8 डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट (DM) का ट्रांसफर कर दिया गया है। इसके साथ ही 12 सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस (SP) का भी तबादला हुआ है। आयोग ने कहा कि मुख्य निर्वाचन आयुक्त राजीव कुमार की अध्यक्षता में बैठक हुई। निर्वाचन आयुक्त ज्ञानेश कुमार और सुखबीर सिंह संधू भी इसमें शामिल हुए। पढ़ें पूरी खबर…

अनंतनाग-राजौरी से चुनाव लड़ेंगे गुलाम नबी आजाद, किससे होगी टक्कर?

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री गुलाम नबी आजाद अनंतनाग-राजौरी निर्वाचन क्षेत्र से आगामी लोकसभा चुनाव 2024 लड़ेंगे। उनकी पार्टी डीपीएपी ने मंगलवार को ये जानकारी दी। बता दें कि गुलाम नबी आजाद ने 2022 में कांग्रेस छोड़ दी थी और पार्टी के साथ अपने पांच दशक लंबे सफर को खत्म कर दिया था। कांग्रेस छोड़ने के बाद आजाद ने अपना खुद का राजनीतिक संगठन-डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव आजाद पार्टी (डीपीएपी) बनाया। पढ़ें पूरी खबर…

जमानत के बाद आज क्यों संजय सिंह की रिहाई की संभावना कम, समझिए

तिहाड़ जेल में छह महीने से ज्यादा समय से बंद आम आदमी पार्टी (आप) नेता संजय सिंह को बड़ी राहत मिली है। सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें मंगलवार को जमानत दे दिया है। हालांकि बेल मिलने के बाद भी संजय सिंह की रिहाई की संभावना आज कम है। दरअसल, अब सुप्रीम कोर्ट का बेल वाला ऑर्डर ट्रायल कोर्ट में भेजा जाएगा। देश की सबसे बड़ी अदालत ने कहा है कि संजय सिंह की जमानत की शर्तें ट्रायल कोर्ट की ओर से तय की जाएंगी। पढ़ें पूरी खबर…

दूतावास पर इजरायली हमले से तमतमाया ईरान, रईसी बोले- जवाब तो देंगे 

सीरिया की राजधानी दमिश्क में ईरान के वाणिज्य दूतावास के खिलाफ संदिग्ध इजरायली हवाई हमले से तनाव फिर बढ़ गया है। ईरानी सत्ता की ओर से इसे लेकर जवाबी कार्रवाई करने की बात कही गई है। ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी ने मंगलवार को कहा, ‘इजरायल अपने खिलाफ प्रतिरोध मोर्चे को नष्ट करने में विफल रहा है। अब ज़ायोनी शासन (इजरायल) खुद को बचाने के लिए अंध हत्याओं को अपने एजेंडे में शामिल कर रहा है। पढ़ें पूरी खबर…

मोदी की हो PM बनाएगी जनता, चुनाव बस फॉर्मेलिटी; क्या बोले हिमंत सरमा 

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने आगामी लोकसभा चुनाव को बस फॉर्मेलिटी भर करार दिया है। उन्होंने कहा कि देश में हर 5 साल बाद चुनाव होता है, इसलिए इसे कराया जा रहा है। हिमंत सरमा ने कहा, ‘यह इलेक्शन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फिर से चुनने के लिए हैं। भारत के लोग चाहते हैं कि मोदी ही पीएम बने रहें और देश को अमृत काल की ओर ले जाएं। पढ़ें पूरी खबर…



Source link

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article