10 C
Munich
Tuesday, April 16, 2024

परवीन बॉबी का दीवाना हो गया था ऑस्ट्रेलिया का इंजीनियर, मिलने के लिए आया मुंबई और बन गया हिंदी फिल्मों का विलेन

Must read


जीनत अमान का दीवाना था ऑस्ट्रेलियन इंजीनियर!

नई दिल्ली:

90 के दशक की फिल्मों में अक्सर आपने एक अंग्रेज को विलेन का रोल करते हुए देखा होगा. फिल्म ‘मर्द’ से लेकर ‘कालिया’ और ‘मिस्टर इंडिया’ जैसी बड़ी फिल्मों में इन्होंने कई बड़े रोल निभाए. हम बात कर रहे हैं बॉलीवुड के मशहूर विलेन बॉब क्रिस्टो की. बॉब भले ही फिल्मों में लड़ाई-झगड़े करते थे लेकिन उनकी असल जिंदगी में रोमांस के रंग भी बड़े दिलचस्प थे. बॉब का भारत पहुंचने का किस्सा भी बड़ा मजेदार था. वो मस्कट के लिए ऑस्ट्रेलिया से निकले लेकिन वीजा नहीं मिला तो भारत में ही रुकना पड़ा था. एक दिन बॉब क्रिस्टो ने एक मैगजीन में फेमस एक्ट्रेस परवीन बाबी की एक तस्वीर देखी और उन्हें देखते ही रह गए. परवीन से मिलने की ख्वाहिश लिए बॉब मुंबई पहुंचे. इसके बाद का किस्सा बेहद दिलचस्प है. आइए जानते हैं खतरनाक विदेशी विलेन की स्टोरी…

यह भी पढ़ें

बॉब क्रिस्टो की पर्सनल लाइफ

बॉलीवुड के खतरनाक विदेशी विलेन बॉब क्रिस्टो का जन्म ऑस्ट्रेलिया के सिडनी में 1938 में हुआ था. वर्ल्ड वॉर-2 में पिता के साथ जर्मनी गए. वहां दादी और बुआ ने इन्हें पाला था. बॉब कुछ समय तक थिएटर में काम करते रहे लेकिन इस फील्ड में करियर नहीं बनाया. सिविल इंजीनियरिंग में पढ़ाई करने के बाद इसी में अपना करियर बनाया. थिएटर करने के दौरान ही बॉब की मुलाकात हेल्गा से हुई जो बाद में उनकी जीवनसाथी बनीं. दोनों के तीन बच्चे हुए. परिवार बसा ही थी कि कुछ सालों में ही एक कार एक्सीडेंट में हेल्गा की मौत हो गई. इसके बाद बॉब ने नरगिस नाम की एक महिला से दूसरी शादी की. जिनसे एक बेटा भी हुआ. 20 मार्च, 2011 को हार्ट अटैक से बॉब का निधन हो गया था. 

परवीन बॉबी की फोटो देख हो गए थे दीवाने

एक बार एक इंटरव्यू में बॉब क्रिस्टो ने दिलचस्प किस्सा शेयर करते हुए बताया था कि उन्होंने एक मैगजीन के कवर पेज पर परवीन बॉबी की तस्वीर देखी तो देखते ही रह गए थे. उनसे मिलने की ख्वाहिश जगी. जब मुंबई आए तो चर्च गेट के पास उनकी मुलाकात एक फिल्म यूनिट से हुई. जहां पता चला कि कैमरामैन अगले दिन फिल्म ‘द बर्निंग ट्रेन’ के सेट पर परवीन बॉबी से मिलेगा. फिर अगले दिन उसकी मदद से बॉब परवीन बॉबी से मिलने पहुंच गए. वो कैमरामैन से परवीन बॉबी को लेकर बात कर ही रहे थे कि तभी पीछे से एक लड़की की आवाज आई. बॉब ने मुड़कर देखा तो परवीन बॉबी वहां थीं. वह उनके पास गए और बोले- आप परवीन बॉबी नहीं हैं. मैगजीन की कवर दिखाते हुए कहा ये लड़की परवीन है.

बॉब-परवीन में इस तरह हुई दोस्ती

बॉब की इस बात को सुनकर परवीन कुछ देर तक हंसती रहीं. फिर थोड़ा रुककर बोलीं- कभी भी शूटिंग के अलावा मेकअप नहीं करती. जिसके बाद दोनों की दोस्ती हो गई. कुछ समय बाद बॉब क्रिस्टो का नाम परवीन के साथ भी जुड़ा था लेकिन इस बात की कभी पुष्टि नहीं हुई. आगे चलकर बॉब को परवीन के साथ फिल्मों में काम करने का मौका मिला और दोनों ने कई फिल्मों में साथ काम किया.दोनों एक-दूसरे के पड़ोस में रहते थे. सबसे पहले संजय खान ने बॉब को 1980 में आई फिल्म ‘अब्दुल्ला’ में विलन का रोल दिया. इसके बाद उन्होंने ‘कुर्बानी’, ‘कालिया’, ‘नास्तिक’, ‘मर्द’, ‘मिस्टर इंडिया’ , ‘रूप की रानी चोरों का राजा’ और ‘गुमराह’ जैसी फिल्मों में विलेन का किरदार निभाया.

Aadujeevitham: आखिर क्यों सच्ची घटना पर आधारित इस फिल्म को बनने में लगे 16 साल?



Source link

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article