3.7 C
Munich
Saturday, April 20, 2024

आंध्र में BJP-TDP के बीच सीट शेयरिंग फाइनल: भाजपा को 6 लोकसभा सीटें मिलीं; नायडू की पार्टी राज्य की 17 सीटों पर चुनाव लड़ेगी

Must read

[ad_1]

  • Hindi News
  • National
  • NDA Finalises Seat sharing In Andhra: BJP Gets 6 LS, 10 Assembly Seats; TDP 17 And 144

अमरावती22 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने 7 मार्च को दिल्ली में अमित शाह से मुलाकात की थी। - Dainik Bhaskar

आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने 7 मार्च को दिल्ली में अमित शाह से मुलाकात की थी।

आंध्र प्रदेश में सत्ताधारी तेलुगु देशम पार्टी (TDP) और बीजेपी के बीच सीट शेयरिंग को लेकर बातचीत फाइनल हो गई है। भाजपा छह लोकसभा और 10 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी। जबकि TDP 17 संसदीय और 144 राज्य सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

समझौते के तहत, पवन कल्याण की जनसेना दो लोकसभा और 21 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी। TDP सुप्रीमो एन चंद्रबाबू नायडू ने बैठक के बाद ये घोषणा की।

वरिष्ठ भाजपा नेता और केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने आगामी संसदीय और विधानसभा चुनावों के लिए सीट बंटवारे को अंतिम रूप देने के लिए अमरावती में नायडू और पवन कल्याण के साथ बातचीत की थी।

आंध्र प्रदेश में 25 लोकसभा और 175 विधानसभा सीटें
आंध्र प्रदेश में 25 लोकसभा और 175 विधानसभा सीटें हैं। जनसेना को पहले 24 विधानसभा और तीन लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ना था, लेकिन हाल ही में TDP के NDA गठबंधन में शामिल होने के बाद सीट-बंटवारे के फॉर्मूले में उसे 21 विधानसभा और दो लोकसभा सीटें मिलीं।

2024 का चुनाव पहली बार होगा जब तीन दल एक साथ चुनाव लड़ रहे हैं। 2014 में, जब TDP और BJP ने मिलकर चुनाव लड़ा था, तब जनसेना उनकी बाहरी सहयोगी थी।

TDP और जनसेना ने पहले ही 100 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी है। नायडू ने कहा कि संबंधित पार्टियां जल्द ही अन्य उम्मीदवारों के नाम घोषित करेंगी।

मोदी, नायडू और कल्याण की हो सकती है बैठक
इस बीच, टीडीपी सूत्रों ने कहा कि राज्य की सत्ताधारी पार्टी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक चुनावी बैठक में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया है जो 17 से 20 मार्च के बीच हो सकती है।

टीडीपी के एक अन्य सूत्र ने बताया अगर मोदी इस बैठक में भाग लेते हैं, तो यह एक दशक में पहली बार हो सकता है कि मोदी, नायडू और कल्याण एक साथ मंच शेयर करेंगे।

6 साल बाद भाजपा-टीडीपी एक साथ आए
9 मार्च को टीडीपी आधिकारिक रूप से एनडीए में शामिल हो गई थी। TDP ने 2019 के लोकसभा चुनावों से पहले 2018 में NDA गठबंधन से अपना नाम वापस ले लिया था। आंध्र प्रदेश को पूर्ण राज्य का दर्जा न मिलने से नाराज चंद्रबाबू नायडू ने NDA सरकार से नाम वापस ले लिया था। उन्होंने गठबंधन से नाम वापस लेते हुए कहा था कि हमारा फैसला बिल्कुल सही है।

केंद्र सरकार ने आंध्र के लिए अपने वादे पूरे नहीं किए। हम बजट सत्र की शुरुआत से ही संसद में मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं, पर अब तक कोई जवाब नहीं मिला।

जून में भी अमित शाह से मिले थे नायडू
चंद्रबाबू नायडू ने जून 2023 में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी। इसके बाद से ही 2024 लोकसभा चुनावों से पहले TDP की NDA में वापसी के कयास तेज हो गए थे।

TDP और BJP ने अलग होकर कितना नुकसान उठाया?
अगस्त 1995 में चंद्रबाबू नायडू ने NTR की सरकार गिराकर अपनी सरकार बनाई। NTR की पार्टी TDP भी दो टुकड़ों में बंटी। TDP (नायडू) का नेतृत्व चंद्रबाबू नायडू कर रहे थे। 96 के लोकसभा चुनावों के लिए नायडू की TDP अटल के नेतृत्व में NDA में शामिल हो गई। लेकिन तबसे लेकर 2009 के लोकसभा चुनाव तक संयुक्त आंध्रप्रदेश की 42 सीटों पर BJP एक भी सीट नहीं जीती। साल 2014 में TDP और BJP ने आंध्रप्रदेश में एक साथ चुनाव लड़ा। चुनाव के नतीजे आने के बाद आंध्रप्रदेश का विभाजन हो गया था। और फिर साल 2018 में TDP गठबंधन से अलग हो गई।

BJD भी NDA में शामिल हो सकती है
TDP के अलावा ओडिशा की BJD भी जल्द ही NDA में शामिल हो सकती है। बुधवार (6 मार्च) को भुवनेश्वर में BJD के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के घर नवीन निवास में चुनाव को लेकर लंबी मीटिंग हुई। इस मीटिंग के बाद BJD के वाइस प्रेसिडेंट देबी प्रसाद मिश्रा ने कहा कि हमारी BJP के साथ अलायंस पर चर्चा चल रही है। हमारी पार्टी ओडिशा के लोगों के हितों को लेकर जरूरी फैसला लेगी। पूरी खबर पढ़ें…

ये खबरें भी पढ़ें…

भास्कर एक्सप्लेनर- नायडू की मजबूरी या बीजेपी की जरूरत, आंध्र प्रदेश में BJP-TDP फिर साथ क्यों आ रहे

जून 2017 की बात है। PM नरेंद्र मोदी और आंध्र प्रदेश के तब के CM चंद्रबाबू नायडू एक मंच पर थे। नायडू ने मोदी का स्वागत किया। नायडू जब मंच से जाने लगे तो PM मोदी तेजी से उनकी तरफ बढ़े और हाथ पकड़कर जबरदस्ती अपनी कुर्सी पर बैठा दिया और खुद बगल में लगी दूसरी कुर्सी पर बैठ गए। ये वो दौर था जब चंद्रबाबू की पार्टी TDP, BJP की अगुआई वाले NDA का हिस्सा थी। पूरी खबर पढ़ें…

यूपी में I.N.D.I. अलायंस में सीटों का बंटवारा फाइनल: सपा ने 17 सीटें कांग्रेस को दीं, प्रियंका ने की मध्यस्थता; राहुल-अखिलेश की बात हुई

यूपी में I.N.D.I. अलायंस में शामिल समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के बीच शीट शेयरिंग फाइनल हो गई है। समझौते के तहत कांग्रेस 17 सीटों पर जबकि सपा 63 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। सपा अपने कोटे से कुछ छोटे दलों को भी सीट दे सकती है। पूरी खबर पढ़ें…

ममता बोलीं- कांग्रेस 40 सीट भी नहीं जीत पाएगी:पता नहीं उसे इतना घमंड क्यों है, अगर हिम्मत है तो BJP को बनारस में हराए

लोकसभा चुनाव से पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मुर्शिदाबाद में जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा, ‘मुझे समझ नहीं आता कि कांग्रेस पार्टी को इतना अहंकार किस बात का है। मुझे नहीं लगता कि वो 300 में से 40 सीट भी जीत पाएगी।’ पूरी खबर पढ़ें…

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article