8.7 C
Munich
Tuesday, March 5, 2024

प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होंगे आडवाणी, जोशी को लेकर संशय जारी

Must read


Image Source : FILE PHOTO
BJP के दिग्गज नेता लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी

भारतीय जनता पार्टी (BJP) के दिग्गज नेता लालकृष्ण आडवाणी 22 जनवरी को अयोध्या में होने वाले प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होंगे। विश्व हिंदू परिषद (VHP) के प्रमुख आलोक कुमार ने गुरुवार इस बात की जानकारी दी है। बता दें कि लालकृष्ण आडवाणी उन चुनिंदा नेताओं में से एक हैं जिन्होंने राम मंदिर आंदोलन में अग्रणी भूमिका निभाई है। लेकिन, अभी तक ये साफ नहीं है कि पार्टी के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी इस ऐतिहासिक समारोह में शामिल होंगे या नहीं। 

मुरली मनोहर जोशी पर क्या बोले VHP प्रमुख

VHP प्रमुख ने कहा, ‘‘आडवाणी जी ने कहा है कि वह आएंगे। अगर जरूरत पड़ी तो हम उनके लिए विशेष व्यवस्था करेंगे।’’ जोशी के बारे में आलोक कुमार ने कहा, ‘‘उन्होंने भी कहा है कि वह इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आने की कोशिश करेंगे।’’ उल्लेखनीय है कि 96 वर्षीय लालकृष्ण आडवाणी भाजपा के संस्थापक सदस्य हैं और मुरली मनोहर जोशी के साथ उन्होंने 1990 के दशक की शुरुआत में राम मंदिर आंदोलन में अग्रणी भूमिका निभाई थी। जोशी भी भाजपा के संस्थापक सदस्य हैं। 

पिछले महीने शामिल ना होने की कही थी बात

बता दें कि राम मंदिर ट्रस्ट ने पिछले महीने कहा था कि अयोध्या में राम मंदिर आंदोलन के अगुवा रहे आडवाणी और जोशी के अपने स्वास्थ्य और उम्र संबंधी कारणों के चलते अगले महीने होने वाले प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने की संभावना नहीं है। अयोध्या में संवाददाता सम्मेलन के दौरान आमंत्रित लोगों की विस्तृत सूची पेश करते हुए, राम मंदिर ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कहा था कि आडवाणी और जोशी के स्वास्थ्य और आयु संबंधी कारणों से प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने की संभावना नहीं है। राय के बयान पर विवाद खड़ा होने के बाद आलोक कुमार ने कहा था कि उन्होंने भाजपा के वरिष्ठ नेताओं लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी को अगले महीने अयोध्या में राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया है। 

कांग्रेस के निमंत्रण अस्वीकार करने पर क्या बोले?

VHP के प्रमुख आलोक कुमार ने एक बयान में कहा था कि आडवाणी और जोशी दोनों ने कहा है कि वे 22 जनवरी को होने वाले समारोह में शामिल होने के लिए ‘‘हर संभव प्रयास’’ करेंगे। प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम का निमंत्रण कांग्रेस के शीर्ष नेताओं द्वारा अस्वीकार किए जाने के बारे में पूछे जाने पर कुमार ने कहा, ‘‘यह उनकी इच्छा है। सभी को आमंत्रित किया गया है। जैसे हमने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आमंत्रित किया, उसी तरह हमने विपक्षी नेताओं को भी आमंत्रित किया। हमने भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा को आमंत्रित किया, इसलिए हमने अन्य सभी दलों के अध्यक्षों को आमंत्रित किया। हमारा मानना ​​​​है कि यह अवसर सभी हिंदुओं के लिए एक पर्व है।’’ विहिप नेता ने कहा, ‘‘जो लोग प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होना चाहते हैं, वे आ सकते हैं। जो लोग इस कार्यक्रम में शामिल नहीं होना चाहते, यह उनकी इच्छा है।’’

ये भी पढ़ें-

 

Latest India News





Source link

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article