4.3 C
Munich
Thursday, April 18, 2024

जमीन से आसमान तक और साइबर से समुद्र तक भारत-फ्रांस की अटल दोस्ती, मैक्रों-मोदी समीकरण – India TV Hindi

Must read


Image Source : PTI
पीएम मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों

देश के 75वें गणतंत्र दिवस के मौके पर भारत और फ्रांस ने अपनी दोस्ती के धागे को और भी अधिक मजबूत कर दिया है। भारत-फ्रांस की अटूट दोस्ती को देखकर चीन और पाकिस्तान जैसे दुश्मनों की हवा खराब होने लगी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों को बीच दोनों देशों की दोस्ती को नए मुकाम पर ले जाने के लिए नई डील हुई है। दोनों देशों ने जमीन से लेकर आसमान तक और साइबर जगत से लेकर समुद्र तक एक दूसरे का साथ देने के मसौदे पर हस्ताक्षर किया है। फ्रांस के साथ यह दोस्ती भारत की बढ़ती ताकत का दुनिया को एहसास करने के लिए है। आज फ्रांस भारत के साथ रक्षा से लेकर सुरक्षा और तकनीकि के मामले में कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है। 

 

भारत और फ्रांस के बीच अब एक रक्षा औद्योगिक साझेदारी ‘रोडमैप’ पर सहमति बनी है जो प्रमुख सैन्य हार्डवेयर एवं प्लेटफॉर्म का सह-विकास व सह-उत्पादन का मार्ग प्रशस्त करेगा। साथ ही अंतरिक्ष, जमीनी युद्ध, साइबर जगत और कृत्रिम मेधा सहित कई क्षेत्रों में प्रौद्योगिकी सहयोग को बढ़ावा देगा। विदेश सचिव विनय क्वात्रा ने बीती रात जयपुर में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के बीच हुई वार्ता के नतीजों की घोषणा करते हुए यह भी कहा कि टाटा और एयरबस हेलीकॉप्टर्स ने महत्वपूर्ण स्वदेशी पुर्जों के साथ एच125 हेलीकॉप्टर के उत्पादन के लिए एक साझेदारी की है।

 

रक्षा क्षेत्र में भारत-फ्रांस सेना के लिए रोबोट्स और स्वचालित वाहनों पर करेंगे काम

सेना की ताकत को मजबूत करने के लिए भारत और फ्रांस ने रोबोटिक्स समेत स्वचालित वाहनों और साइबर अपराधों पर शिकंजे को लेकर अपनी साझेदारी को मजबूत किया है।  शुक्रवार को संवाददाता सम्मेलन में क्वात्रा ने कहा कि भारत-फ्रांस रक्षा औद्योगिकी रोडमैप रोबोटिक्स, स्वचालित वाहन और साइबर रक्षा के क्षेत्रों में भी सहयोग बढ़ाएगा। उन्होंने कहा कि उपग्रहों के प्रक्षेपण के लिए न्यू स्पेस इंडिया लिमिटेड और फ्रांस के एरियनस्पेस के बीच एक सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किये गए।

क्वात्रा ने कहा कि मोदी और मैक्रों ने गाजा में संघर्ष, और आतंकवाद एवं मानवीय पहलुओं सहित इसके विभिन्न आयामों पर भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि दोनों नेताओं ने लाल सागर में उभरती सुरक्षा स्थिति, संभावित व्यवधान और वास्तविक घटनाक्रमों पर भी चर्चा की। मैक्रों ने भारत की अपनी दो दिवसीय यात्रा की शुरूआत बृहस्पतिवार को जयपुर दौरे के साथ की थी। फ्रांस के राष्ट्रपति शुक्रवार को यहां कर्तव्य पथ पर गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अतिथि शामिल हुए । (भाषा) 

यह भी पढ़ें

Latest India News





Source link

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article