8.7 C
Munich
Tuesday, March 5, 2024

सरकारी जमीनों पर कब्जे, रिश्वत लेकर ट्रांसफर पोस्टिंग में शामिल थे हेमंत सोरेन- ED – India TV Hindi

Must read


Image Source : PTI
हेमंत सोरेन को लेकर ईडी का बड़ा खुलासा।

कथित जमीन घोटाला मामले में ED की रिमांड में फंसे झारखंड के पूर्व सीएम हेमंत सोरेन की मुश्किलें बढ़ती चली जा रही हैं। रांची की PMLA कोर्ट ने हेमंत सोरेन की ED रिमांड को 5 दिन और बढ़ा दिया है। एजेंसी ने कोर्ट से सोरेन की 7 दिनों की रिमांड मांगी थी। इस बीच ईडी ने हेमंत सोरेन पर कई तरह के भ्रष्टाचार में शामिल होने के आरोप लगाए हैं। हेमंत सोरेन की रिमांड कॉपी में ईडी ने बड़ा खुलासा किया है। ईडी का कहना है कि सोरेन ने अपने करीबी अधिकारियों की मदद से ना सिर्फ सरकारी जमीनों पर कब्जा किया बल्कि वे रिश्वत लेकर अधिकारियों की ट्रांसफर पोस्टिंग में भी शामिल हैं।

ईडी को मिली व्हाट्सएप चैट 

हेमंत सोरेन पर ये नया आरोप जांच के दौरान ED के हाथ लगी व्हाट्सएप चैट के जरिये सामने आया है। व्हाट्सएप चैट झारखण्ड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और उनके खासमखास दोस्त बिनोद सिंह के बीच की है। बिनोद सिंह पेशे से अर्टिटेक्ट हैं। ईडी ने बोकारो और चलबासा जेल सुपरिटेंडेंट के ट्रांसफर से जुड़ा कागज भी मोबाइल से बरामद किया है। इस कागज में ट्रांसफर पोस्टिंग का रेट लिखा है।

व्हाट्सएप में क्या मिला?

ईडी के अनुसार, बिनोद ने 07-06-2020 को हेमंत सोरेन को व्हाट्सएप किया जिसमें लिखा था “कहीं का DC बना देना…नो रिलेशन प्योर कमर्शियल’। भाई अभी तक जितना भी सिफारिश किया है किसी से भी एक रुपया नहीं लिया है, काम होने के बाद जैसा आदेश होगा आपका, लेकिन रिक्वेस्ट है pls कुछ केस कंसीडर कर लेना..I wish हम भी छोटे से सिस्टम का पॉर्ट होते।” इस व्हाट्सएप चैट में कई अधिकारियों के नाम और वर्तमान पोस्टिंग के साथ वो कहां पोस्टिंग चाहते हैं, इसकी डिटेल भी है।

हेमंत सोरेन नहीं दे रहे सीधा जवाब

ED ने आरोप लगाया है कि इस चैट से साफ जाहिर होता है कि हेमन्त सोरेन ना सिर्फ फर्जी कागजातों और सरकारी कागजो में हेरफेर कर सरकारी जमीन पर कब्जा कर रहे थे। बल्कि वे अपने पद का दुरुपयोग कर पैसे लेकर ट्रांसफर पोस्टिंग के खेल में भी शामिल थे। ED का दावा है कि उनके पास बिनोद सिंह और हेमंत सोरेन के बीच व्हाट्सएप चैट के 539 पेज हैं। ED का दावा है कि 5 फरवरी को उनका वोट डालने के लिए विधानसभा ले जाया गया, जिसके बाद उन्हें वापस ED आफिस लाया गया। इसके बाद ED ने हेमंत सोरेन से उनके फोन के बारे में पूछा जिससे उन्होंने बिनोद सिंह से व्हाट्सएप चैट की थी। हालांकि, सोरेन ने फोन के बारे में सीधा जवाब नहीं दिया है।

Latest India News





Source link

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article