4.3 C
Munich
Thursday, April 18, 2024

शराब घोटाला मामले में केजरीवाल को ED का नौवां समन: 21 मार्च को पूछताछ के लिए बुलाया; कल ही कोर्ट ने केजरीवाल को दी थी जमानत

Must read


  • Hindi News
  • National
  • Arvind Kejriwal ED 9th Summon Update; Avenue Court | Delhi Liquor Policy Scam

नई दिल्ली12 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

शनिवार को राउज एवेन्यू कोर्ट में सुनवाई के लिए आते अरविंद केजरीवाल।

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने आज 17 मार्च को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को नौवां समन भेजा है। उन्हें 21 मार्च को पूछताछ के लिए बुलाया गया है। शराब नीति घोटाला मामले में ED अरविंद केजरीवाल को अब तक 8 समन भेज चुकी है। हालांकि, वे एक बार भी पूछताछ के लिए पेश नहीं हुए हैं।

पूछताछ के लिए हाजिर नहीं होने के चलते ED ने केजरीवाल के खिलाफ दिल्ली के राउज एवेन्यू कोर्ट में दो शिकायतें दर्ज करवाईं। मामले में कल ही कोर्ट के सामने केजरीवाल की पेशी हुई थी। पेशी के एक मिनट बाद कोर्ट ने उन्हें 15 हजार के मुचलके पर जमानत दे दी। कोर्ट ने इस मामले में केजरीवाल को हाजिर होने से भी छूट दे दी है।

ED ने कोर्ट में दलील दी थी कि वह शराब नीति को फाइनल करने से पहले हुई बैठकों और रिश्वतखोरी के आरोपों पर केजरीवाल का बयान दर्ज करना चाहती है। वहीं, केजरीवाल के वकील ने कोर्ट से अपील की कि उन्हें ED से वे दस्तावेज चाहिए, जिनके आधार पर उनसे पूछताछ होनी है। कोर्ट ने ED को दस्तावेज देने के आदेश दिए हैं। मामले की सुनवाई 1 अप्रैल को होगी।

इससे पहले, राउज एवेन्यू कोर्ट में शुक्रवार (15 मार्च) को सुनवाई हुई थी। ED की याचिका पर कोर्ट में पेश होने के लिए उन्हें 7 मार्च को समन जारी हुआ था।

ED ने केजरीवाल को 27 फरवरी, 26 फरवरी, 22 फरवरी, 2 फरवरी, 17 जनवरी, 3 जनवरी, 21 दिसंबर और 2 नवंबर को समन भेजा था। हालांकि, केजरीवाल एक बार भी पूछताछ के लिए पेश नहीं हुए।

ED ने केजरीवाल को 27 फरवरी, 26 फरवरी, 22 फरवरी, 2 फरवरी, 17 जनवरी, 3 जनवरी, 21 दिसंबर और 2 नवंबर को समन भेजा था। हालांकि, केजरीवाल एक बार भी पूछताछ के लिए पेश नहीं हुए।

कोर्ट रूम की दलीलें…

कोर्ट- क्या आरोपी पेश हो रहे हैं?

गुप्ता (केजरीवाल के वकील)- हां वो कोर्ट में हैं और आप बेल बॉन्ड का ऑर्डर दे सकते हैं। इसके बाद केजरीवाल जा सकते हैं और जिरह जारी रख सकते हैं।

कोर्ट- 15 हजार के मुचलके पर जमानत मंजूर करते हैं। केजरीवाल कोर्ट से जा सकते हैं। वकील अभी कोर्ट में मौजूद रहें।

ED– इस मामले की धाराएं एक बार देख लीजिए।

कोर्ट- आरोप बेलेबल हैं और आरोपी ने बेल मांगी है।

ED से कोर्ट- क्या आप जवाब फाइल करना चाहते हैं?

ED- हमारा कहना सिर्फ यही है कि केजरीवाल सिर्फ देरी करने की तरकीबें अपना रहे हैं। ये जांच में देरी करना चाहते हैं।

गुप्ता– इस मामले की सुनवाई सोमवार को की जाए।

कोर्ट- हमें लगता है कि आप पहले इस पर जवाब फाइल कर दीजिए। ये उचित रहेगा।

ED- इन्हें जो भी डॉक्यूमेंट्स दिए जाने चाहिए, वो दे दिए जाएंगे।

कोर्ट- हम इस मामले की सुनवाई 1 अप्रैल को करेंगे।

केजरीवाल के वकील बोले- CM ने ED के हर समन का जवाब दिया
कोर्ट में 15 मार्च को स्पेशल जज (CBI) राकेश सयाल की सिंगल बेंच में ED की तरफ से ASG एसवी राजू पेश हुए। वहीं, केजरीवाल के वकील सीनियर एडवोकेट रमेश गुप्ता और एडवोकेट राजीव मोहन रहे। केजरीवाल के वकीलों ने कहा कि दिल्ली सीएम ने ED के हर समन का जवाब दिया है। मुख्यमंत्री के रूप में उनकी जिम्मेदारी की वजह से वो ED के सामने पेश नहीं हो सके। ED ने कोर्ट में शिकायत करने से पहले केजरीवाल को कारण बताओ नोटिस भी नहीं दिया।

दिल्ली CM जब 2 फरवरी को 5वें समन के बाद पूछताछ के लिए नहीं आए थे, तब ED ने राउज एवेन्यू कोर्ट में याचिका लगाई थी। केजरीवाल दिल्ली विधानसभा में विश्वास प्रस्ताव पर चर्चा और बजट सेशन के कारण 14 फरवरी को कोर्ट में वर्चुअली पेश हुए थे। कोर्ट ने इसके बाद अगली सुनवाई के लिए 16 मार्च की तारीख तय की थी।

ED को गिरफ्तारी का अधिकार
CM केजरीवाल के बार-बार पेश नहीं होने पर ED उनके खिलाफ जमानती वारंट जारी कर सकती है। उसके बाद भी पेश नहीं हुए तो धारा 45 के तहत गैर जमानती वारंट जारी कर सकती है।

प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (PMLA) के जानकार बताते हैं कि पेश नहीं हो पाने की ठोस वजह बताई जाती है तो ED समय दे सकती है। फिर दोबारा नोटिस जारी करती है। PMLA में नोटिस की बार-बार अवहेलना पर गिरफ्तारी हो सकती है।

अगर CM केजरीवाल आगे भी पेश नहीं होते हैं तो जांच अधिकारी आवास पर जाकर पूछताछ कर सकते हैं। ठोस सबूत होने पर या सवालों के संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर उन्हें गिरफ्तार कर सकते हैं।

वहीं, केजरीवाल वारंट जारी होने के बाद कोर्ट जा सकते हैं और अपने एडवोकेट की मौजूदगी में जांच में सहयोग करने का वादा कर सकते हैं। इस पर कोर्ट ED को उन्हें गिरफ्तार नहीं करने का निर्देश दे सकता है।

ये खबर भी पढ़ें…

केजरीवाल को कोर्ट का समन: शराब नीति घोटाले में ED ने पूछताछ के लिए 8 बार बुलाया, नहीं आए तो कोर्ट में गुहार लगाई

दिल्ली के राउज एवेन्यू कोर्ट ने CM अरविंद केजरीवाल को शराब घोटाला से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गुरुवार (7 मार्च) को समन भेजा। ED ने बुधवार (6 मार्च) को कई समन नजरअंदाज करने के आरोप में केजरीवाल के खिलाफ कोर्ट में मुकदमा चलाने की मांग की थी। पूरी खबर पढ़ें

भास्कर एक्सप्लेनर- 8वें समन पर पूछताछ को तैयार हुए केजरीवाल:गिरफ्तारी की कितनी आशंका; क्या जेल से सरकार चला सकते हैं

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आखिरकार ED के 8वें समन पर उसके सवालों का जवाब देने को तैयार हैं। हालांकि, उन्होंने 2 शर्तें रखी हैं। पहली- पूछताछ की तारीख 12 मार्च के बाद हो, दूसरी- बातचीत वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हो। ED अब तक केजरीवाल को 8 समन जारी कर चुकी है। आम आदमी पार्टी के नेता सौरभ भारद्वाज ने कहा, ‘हमारा स्टैंड वही है, समन गैर कानूनी है। दरअसल, इनका मकसद पूछताछ नहीं, बल्कि अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार करना है।’ पूरी खबर पढ़ें…



Source link

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article