3.6 C
Munich
Saturday, February 24, 2024

असम में कांग्रेस की भारत जोड़ो न्याय यात्रा पर हमला, भाजपा युवा मोर्चा पर लगा आरोप – India TV Hindi

Must read


Image Source : INDIA TV
युवा कांग्रेस के वाहनों पर हमला

कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ शुक्रवार को दूसरे दिन असम से होकर गुजरी। इस दौरान युवा कांग्रेस के वाहनों पर लक्षित हमला हुआ है। भाजपा युवा मोर्चा (भाजयुमो) पर शुक्रवार रात युवा कांग्रेस से जुड़े वाहनों में तोड़फोड़ का आरोप लगा है। यात्रा से पहले लखीमपुर में राहुल गांधी के कटआउट और बैनर को भी नुकसान पहुंचाया गया। कांग्रेस पुलिस में शिकायत दर्ज कराने और भाजपा से जुड़े उपद्रवियों की गिरफ्तारी की मांग करने की योजना बना रही है।

राहुल ने हिमंत को बताया ‘सबसे भ्रष्ट’ मुख्यमंत्री

कल पार्टी ने दावा किया कि दक्षिण से उत्तर की ओर अपनी पहली यात्रा के दौरान उसे भाजपा शासित राज्यों में उतनी समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ा, जितना दूसरी यात्रा के दौरान पूर्वोत्तर के राज्य में करना पड़ रहा है। राहुल गांधी ने लगातार दूसरे दिन (असम के मुख्यमंत्री) हिमंत विश्व शर्मा की आलोचना की और उन्हें देश में ‘सबसे भ्रष्ट’ मुख्यमंत्री बताया। उन्होंने कहा, ‘‘असम के मुख्यमंत्री इतने भ्रष्ट हैं कि वह भाजपा शासित अन्य राज्यों के अपने समकक्षों को भ्रष्टाचार करना सिखा सकते हैं।’’

21 मार्च तक चलेगी कांग्रेस की यात्रा

राहुल के नेतृत्व में कांग्रेस की यात्रा 14 जनवरी को मणिपुर से शुरू हुई थी और यह 20 या 21 मार्च को मुंबई में समाप्त होगी। पहली ‘भारत जोड़ो यात्रा’ 2022-23 में कन्याकुमारी से कश्मीर तक आयोजित की गई थी। गांधी और उनके सहयोगियों ने दिन में यात्रा की शुरुआत सुबह जोरहाट जिले के निमातीघाट से दुनिया के सबसे बड़े नदी द्वीप माजुली तक ब्रह्मपुत्र पर नौका की सवारी के साथ की। राहुल ने असम में अपनी ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ के दूसरे दिन पहली जनसभा को संबोधित करते हुए दावा किया कि कांग्रेस मूल निवासियों के तौर पर संसाधनों पर ‘आदिवासियों’ के अधिकारों को मान्यता देती है।

उन्होंने कहा, ‘‘हम आपको आदिवासी कहते हैं जिसका अर्थ है आदि काल से रहने वाले। भाजपा आपको वनवासी कहती है जिसका अर्थ है वन में रहने वाले लोग।’’ कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि भाजपा आदिवासियों को वनों तक ही सीमित करना चाहती है और उनके बच्चों को स्कूल तथा विश्वविद्यालय जा कर शिक्षा ग्रहण करने, अंग्रेजी सीखने एवं कारोबार करने के अवसरों से वंचित करना चाहती है।

यह भी पढ़ें-

Latest India News





Source link

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article