10 C
Munich
Tuesday, April 16, 2024

वेज और नॉनवेज डिलीवरी बॉय के लिए अलग ड्रेस नहीं: जोमैटो के CEO बोले ‘अलग ड्रेस से हो सकता था भेदभाव, सभी लाल टी-शर्ट पहनेंगे

Must read


नई दिल्ली32 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

कंपनी के सभी राइडर्स लाल ड्रेस पहनना ही जारी रखेंगे। हालांकि वेज और नॉन वेज के लिए डिलीवरी बॉय अलग-अलग रहेंगे।

जोमैटो ने 24 घंटे से भी कम समय में अपने वेज डिलीवारी बॉयज के हरे रंग की ड्रेस पहनने के फैसले को वापस ले लिया है। अभी डिलीवारी बॉय पहले की ही तरह लाल रंग की टी-शर्ट ही पहनेंगे। जोमैटो के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर (CEO) दीपिंदर गोयल ने आज यानी बुधवार को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर पोस्ट शेयर कर इस बात की जानकारी दी है।

जोमैटो के फाउंडर और सीईओ दीपिंदर गोयल के अनुसार कंपनी वेजिटेरियन्स के लिए एक अलग फ्लीट (अलग डिलीवरी बॉयस) जारी रखेगी। मगर इस फ्लीट में हरे रंग का उपयोग नहीं किया जाएगा। कंपनी ने ऐसा जमीनी अलगाव (भेदभाव) को खत्म करने के लिए किया गया है। कंपनी के सभी राइडर्स लाल ड्रेस पहनना ही जारी रखेंगे।

पहले वेज ऑडर्स के डिलीवरी बॉयज के लिए हरे रंग की टी-शर्ट का ड्रेस कोड रखने का फैसला किया गया था, जिसे अब वापस ले लिया गया है।

पहले वेज ऑडर्स के डिलीवरी बॉयज के लिए हरे रंग की टी-शर्ट का ड्रेस कोड रखने का फैसला किया गया था, जिसे अब वापस ले लिया गया है।

मंगलवार को लिया था वेजिटेरियन्स के लिए हरे रंग का फैसला
इससे पहले कल यानी मंगलवार को फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म जोमैटो ने भारत में 100% वेजिटेरियन डाइट को फॉलो करने वाले कस्टमर्स के लिए ‘प्योर वेज मोड’ और ‘प्योर वेज फ्लीट’ लॉन्च किया है। इसके तहत जोमैटो ने वेज ऑडर्स पहुंचाने वालों के लिए हरे रंग की ड्रेस शुरू करने के अपने फैसला लिया था।

इसके अलावा कंपनी ने यह भी फैसला किया था कि वेज खाना हरे बॉक्स में और नॉनवेज फूड लाल बॉक्स में पैक किया जाएगा। अब सभी फूड्स को पैक करने के लिए एक ही जैसे बॉक्स का उपयोग किया जाएगा।

जारी रहेगा वेजिटेरियन फूड सर्व करने वाले रेस्टोरेंट्स का ऑप्शन मिलेगा
दीपिंदर गोयल के अनुसार ‘प्योर वेज मोड’ में सिर्फ वेजिटेरियन फूड सर्व करने वाले रेस्टोरेंट्स का ही ऑप्शन मिलेगा। इस मोड में नॉन-वेजिटेरियन आइटम्स ऑफर करने वाले रेस्टोरेंट्स शामिल नहीं रहेंगे। गोयल ने नई पोस्ट में कहा है कि अब हमें एहसास हुआ है कि हमारे कुछ ग्राहकों को अपने मकान मालिकों से दिक्कत हो सकती है। अगर हमारी वजह से ऐसा हुआ तो यह अच्छा नहीं होगा ।



Source link

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article