12 C
Munich
Sunday, March 3, 2024

रामलला के दर्शन के लिए अयोध्या कब जाएंगे? ‘आप की अदालत’ में सचिन पायलट ने बताया – India TV Hindi

Must read


Image Source : INDIA TV
‘आप की अदालत’ में सचिन पायलट

Sachin pilot In Aap Ki Adalat: कांग्रेस महासचिव सचिन पायलट ने देश के लोकप्रिय टीवी शो ‘आप की अदालत’ में रजत शर्मा के सवालों का खुलकर जवाब दिया। उनसे रजत शर्मा ने जब यह पूछा कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण हुआ है, आप कब जाएंगे। इस पर सचिन पायलट ने कहा कि जब मेरा मन होगा तब जाऊंगा। मेरा धर्म, मेरी आस्था यह मेरा व्यक्तिगत विषय है। राम के बिना सृष्टि की कल्पना नहीं की जा सकती है। राम सबके हैं और हम राम के हैं। हर व्यक्ति राम-राम बोलता है। सबसे ज्यादा तो राम-राम मैं बोलता हूं। 

कांग्रेस नेताओं के अयोध्या नहीं जाने पर दिया ये जवाब

सचिन पायलट से जब यह पूछा गया कि कांग्रेस में सोनिया गांधी, खरगे, अधीर रंजन चौधरी को न्योता मिला लेकिन वे नहीं गए। इस पर सचिन पायलट ने कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि निमंत्रण कौन दे रहा है, क्यों दे रहा है? शंकराचार्य भी नहीं गए। उनके अलग कारण हैं। कब जाना है यह व्यक्तिगत निर्णय होता है। जब इस तरह के अवसर का राजनीतिक इस्तेमाल होता है तो यह गलत है। सचिन पायलट ने यह भी बताया कि राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह का न्यौता उन्हें नहीं मिला था लेकिन जब भी अवसर मिलेगा वे जरूर जाएंगे।

राहुल गांधी जरूर अयोध्या जाएंगे

सचिन पायलट से जब यह पूछा गया कि क्या राहुल गांधी अयोध्या जाएंगे? इस पर सचिन पायलट ने कहा कि राहुल गांधी जरूर अयोध्या जाएंगे। जब मन होगा तब जाएंगे.. कौन रोक सकता है। वे मंदिरों में जाते हैं। वहीं सचिन पायलट ने यह भी कहा कि मंदिरों में जाना या नहीं जाना तो व्यक्तिगत आस्था का विषय है। जिसे जब मर्जी होगी वह जाएगा।

कांग्रेस ही बीजेपी को राष्ट्रीय स्तर पर चुनौती दे सकती है

वहीं इंडिया अलायंस से जुड़े सवाल पर सचिन पायलट ने कहा कि क्षेत्रीय दल महत्वपूर्ण हैं, लेकिन केवल कांग्रेस ही राष्ट्रीय स्तर पर भाजपा को चुनौती दे सकती है। सचिन पायलट से जब यह पूछा गया कि तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में अकेले चुनाव लड़ने का फैसला किया है तो पायलट ने जवाब दिया: ‘जहां तक सीट शेयरिंग की बात है तो हर क्षेत्रीय पार्टी का महत्व है। चाहे वह बंगाल हो, महाराष्ट्र, बिहार या पंजाब हो, लेकिन राष्ट्रीय स्तर पर अगर भाजपा को कोई चुनौती दे सकता है तो वह नेशनल कांग्रेस पार्टी है।  बहुत जल्द सारे मामलों को सुलझा करके हम लोग सीट शेयरिंग कर लेंगे।”

Latest India News





Source link

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article