4.3 C
Munich
Thursday, April 18, 2024

चुनाव से पहले बंगाल में हिंसा का दावा: BJP विधायक EC से बोले- ये 2023 के पंचायत चुनावों का नरसंहार दोहराने से रोकने का समय

Must read


  • Hindi News
  • National
  • West Bengal Lok Sabha Election Politics; BJP Suvendu Adhikari Vs TMC | Hossain Sheikh

कोलकाता1 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पश्चिम बंगाल में नेता प्रतिपक्ष और भाजपा विधायक सुवेंदु अधिकारी ने लोकसभा चुनाव से पहले हिंसा शुरू होने का दावा किया है। उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर रविवार (24 मार्च) को एक पोस्ट में तृणमूल कांग्रेस के लोगों पर भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट का आरोप लगाया।

उन्होंने अपने पोस्ट में चुनाव आयोग (EC) को टैग करते हुए कहा- EC से आग्रह है कि अगर वे 2021 के विधानसभा चुनाव के वोटिंग के बाद की हिंसा और 2023 के पंचायत चुनावों का नरसंहार दोहराने से रोकने चाहते हैं, तो कार्रवाई करने का समय आ गया है।

सुवेंदु अधिकारी के बताया कि कैनिंग पुरबा विधानसभा क्षेत्र में TMC के गुंडों ने भाजपा कार्यकर्ताओं पर बेरहमी से हमला किया है। कैनिंग पुरबा से TMC विधायक सौकत मोल्ला के करीबी हुसैन शेख ने घटना को अंजाम दिया है।

भाजपा MLA बोले- सौकत मोल्ला की छवि शेख शाहजहां के समान
हमले में भाजपा के दो कार्यकर्ता गंभीर रूप से घायल हैं। उन्हें इलाज के लिए कैनिंग सब डिविजनल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। भाजपा विधायक ने दावा किया कि कैनिंग पुरबा में सौकत मोल्ला की छवि संदेशखाली में शेख शाहजहां के समान है।

सुवेंदु ने कहा- सौकत मोल्ला जैसे लोगों के पास चुनावों में धांधली करने की मशीनरी है। चुनाव आयोग को उन्हें निगरानी में रखना चाहिए। स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव कराने का यही एकमात्र तरीका है। सुवेंदु ने हुसैन शेख को गिरफ्तार करने की भी मांग की।

पंचायत चुनाव में 15 लोगों की मौत हुई थी

बंगाल पंचायत चुनाव के दौरान साउथ 24 परगना के भांगड़ ब्लॉक के जमीरगाछी में बमबाजी हुई थी। हमले में घायल शख्स को अस्पताल ले जाते लोग।

बंगाल पंचायत चुनाव के दौरान साउथ 24 परगना के भांगड़ ब्लॉक के जमीरगाछी में बमबाजी हुई थी। हमले में घायल शख्स को अस्पताल ले जाते लोग।

बंगाल में 8 जुलाई 2023 में पंचायत चुनाव हुए थे। वोटिंग के दिन अलग-अलग इलाकों में हुई हिंसा में 15 लोगों की मौत हुई थी। कई जगह बैलेट पेपर फाड़े गए तो कहीं बैलेट बॉक्स को पानी में डाल दिया गया और कहीं आग लगा दी गई।

मरने वालों में 8 TMC कार्यकर्ता, तीन CPI(M) कार्यकर्ता, कांग्रेस-भाजपा और ISF के एक-एक कार्यकर्ता और एक निर्दलीय कैंडिडेट का पोलिंग एजेंट शामिल थे।

खबरें और भी हैं…



Source link

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article