पंजाब कांग्रेस में ‘संग्राम’: सिद्धू ने फिर साधा कैप्टन अमरिंदर पर निशाना

0
133

चंडीगढ़

पंजाब में कुछ दिनों की शांति के बाद कैबिनेट मंत्री और फायर ब्रांड नेता नवजोत सिंह सिद्धू फिर आक्रामक अंदाज में हैं। उन्‍होंने एक बार फिर अपने मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह पर निशाना साधा है। इससे Loksabha Election 2019 के मौके पर पंजाब कांगेेस में फिर ‘संग्राम’ छिड़ता दिख रहा है। उन्‍होंने कहा कि कैप्‍टन अमरिंदर बठिडा से केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर के खिलाफ चुनाव लड़ें। अपनी पत्‍नी पत्‍नी डॉ. नवजोत कौर सिद्धू को बठिंडा से हरसिमरत के खिलाफ चुनाव लड़ने की बात से चुनाव लड़ने की बात से चिढ़े सिद्धू ने कहा कि कैप्‍टन खुद वहां से चुनाव क्यों नहीं लड़ लेते। बता दें कि इससे पहने भी सिद्धू कई बार मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह पर हमला कर चुके हैं। दोनों के बीच विवाद काफी समय तक सुर्खियों में बना हुआ था। पुलवामा में आतंकी हमले के बाद भी कैप्‍टन अमरिंदर सिंह के पाकिस्‍तान पर हमला करने के बाद‍ सिद्धू पाक के पक्ष में खुलकर आ गए थे। कैप्‍टर अमरिंदर द्वारा पाकिस्‍तान जाने से मना करने के बावजूद सिद्धू वहां के प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में गए थे।

नवजोत सिद्धू के पाकिस्‍तान में वहां के सेना प्रमुख से गले मिलने पर विवाद खड़ा हो गया था। कैप्‍टन ने इसकी कड़ी आलोचना की। इसके बाद तेलंगाना में विधानसभा चुनाव के दौरान मीडिया से बातचीत में कैप्‍टन अमरिंदर के बारे में विवादित बयान दे दिया था। बाद में विवाद बढ़ने पर उन्‍होंने कैप्‍टन से माफी मांग ली। नवजाेत सिंह सिद्धू लोेकसभा चुनाव में कांग्रेस के लिए प्रचार करने केरल रवाना होने से पहले कुछ पत्रकारों से बातचीत की। इसी दौरान उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह को लोकसभा चुनाव लड़ने की सलाह दे डाली। उन्‍होंने कहा कि बठिंडा में शिरोमणि अकाली दल की नेता व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल के खिलाफ कैप्टन अमरिंदर सिंह को खुद चुनाव लड़ना चाहिए। केरल के वायनाड जाने से पहले चुनिंदा पत्रकारों से बात करते हुए सिद्धू ने अपनी पत्नी नवजोत कौर के बठिंडा से उतारे जाने के सवालों पर कहा कि आखिर वह क्यों लड़ें बठिंडा से? उन्होंने कहा, वहां से जबरदस्त कैंडीडेट तो कैप्टन अमरिंदर सिंह होंगे। वह तो बठिंडा की तलवंडी साबो विधानसभा सीट से जीत भी चुके हैं। उनका बेटा रणइंद्र भी यहां से चुनाव लड़ चुका है। इस तरह बठिंडा से कैप्टन अमरिंदर सिंह को लड़ने के लिए कहकर नवजोत सिद्धू ने बॉल कैप्टन के पाले में डाल दी है।

काबिले गौर है कि बठिंडा से चुनाव में उम्मीदवार उतारने के लिए कांग्रेस को कोई सशक्त उम्मीदवार नहीं मिल रहा है, इसलिए कहा जा रहा है कि नवजोत कौर सिद्धू को यहां से उतारा जाए। नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा, ‘मेरी पत्नी ने चंडीगढ़ से टिकट मांगा था। मैंने अखबारों में पढ़ा है कि कहा गया कि वह चंडीगढ़ में नहीं रहतीं इसलिए उन्हें टिकट नहीं दिया जा सकता। मुझे समझ नहीं आता चंडीगढ़ से तो टिकट इसलिए काट दी कि वह यहां रहती नहीं तो वह क्या बठिंडा में रहती हैं? यह दोहरे मापदंड क्यों? क्या वह कोई स्टेपनी हैं कि जब जी चाहे कहीं भी फिट कर लो।’ नवजोत सिद्धू ने स्पष्ट किया कि उनकी पत्नी ने चंडीगढ़ से टिकट इसलिए मांगा था क्योंकि यह छोटी सीट है। यहां प्रचार करना आसान है। अगर उसे अमृतसर या कहीं और से लड़ने के लिए कहा जाता तो उसे मेरी जरूरत होती। संसदीय सीट का चुनाव काफी बड़ा होता है। बता दें कि नवजोत सिद्धू को लोकसभा चुनाव में कांग्रेस ने स्टार प्रचारक बनाया है। वह बुधवार को चुनाव प्रचार के लिए केरल के वायनाड के लिए रवाना हुए। सिद्धू ने कहा, मेरे लिए हर प्रदेश से डिमांड आ रही है लेकिन पार्टी जहां-जहां डयूटी लगाएगी, प्रचार के लिए जाऊंगा। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here