5.4 C
Munich
Friday, March 1, 2024

“बेटे को एक थप्पड़ भी नहीं जड़ सकती थी”, हत्यारी CEO मां की पूर्व पड़ोसी ने कहा

Must read


Image Source : IFILE PHOTO
सूचना सेठ

बेटे की हत्या से सूर्खियों में आई बेंगलुरु के स्टार्टअप की CEO सूचना सेठ को लेकर कई तरह खुलासे हो रहे हैं। सूचना सेठ की इंस्टाग्राम पर आखिरी पोस्ट 12 अक्टूबर की है, जिसमें उसके बेटे की एक तस्वीर एक्वेरियम के सामने खेलते हुए की है। सूचाना को गोवा सर्विस अपार्टमेंट में अपने चार साल के बच्चे की हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। सूचना की गिरफ्तार के बाद उसकी आखिरी पोस्ट पर कॉमेंट के भरमान लग गए हैं। एक इंस्टाग्राम यूजर ने लिखा कि वह करीब छह महीने तक सूचना की पड़ोसी रही हैं और वह हमेशा अपने बेटे की सेहत को लेकर बहुत चिंतित रहती थी, क्योंकि उसे सांस लेने में परेशानी होती थी। एक अन्य यूजर ने कहा कि वह करीब तीन महीने पहले सूचना और उसके बेटे से मिली थी, वे बहुत प्यारे थे।

“वो बच्चा हे भगवान कितना अच्छा और प्यारा था” 

सूचाना के पूर्व पड़ोसी होने का दावा करने वाली यूजर ने लिखा, “वह अपने बच्चे की देखभाल बहुत अच्छी तरह से कर रही थी और वो बच्चा हे भगवान, वो इतना अच्छा था और इतना प्यारा कि उससे मिलने के बाद भी हम उसकी बातें करते रहते थे। विश्वास नहीं हो रहा। मुझे कभी नहीं लगा कि वो अपने बच्चा को एक थप्पड़ भी जड़ सकती थी। हम एक दूसरे के साथ भोजन एक्सजेंस करते थे और मैंने इतना प्यार करने वाली सिंगल मां नहीं देखा था, मैं अभी भी बहुत सदमे में हूं। अगर यह सच है तो यह कल्पना से भी अजीब है, अगर इसे गढ़ा नहीं गया है।”

सूचना सेठ से गोवा पुलिस कर रही पूछताछ

पति से तलाक की लड़ाई के बीच अपने चार साल के बेटे की हत्या की आरोपी CEO सूचना सेठ से गोवा पुलिस लगातार पूछताछ कर रही है। इससे पहले जानकारी सामने आई कि सूचना सेठ ने अगस्त में घरेलू हिंसा का आरोप लगाया था। उसने बच्चे और खुद का शारीरिक शोषण करने का आरोप लगाया था और गुजारा भत्ता के लिए प्रति माह 2.5 लाख रुपये की मांग की थी, यह दावा करते हुए कि उसके पति की वार्षित आय एक करोड़ रुपये से अधिक है। सूचना ने घरेलू हिंसा के अपने दावे को साबित करने के लिए व्हाट्सएप मैसेज, फोटो के साथ मेडिकल रिकॉर्ड की कॉपियां भी जमा की थीं। हालांकि, सूचना सेठ के पति वेंकट रमन जो इन दिनों इंडोनेशिया में रह रहे है। पिता को बच्चे से सप्ताहिक मुलाकात का अधिकार दिया गया था, लेकिन इससे भी सूचना सेठ काफी परेशान थी। पुलिस ने अनुमान लगाया है कि अदालत के इस आदेश के कारण ही उसने अपने बच्चे को मार डाला होगा। 

हत्या को अंजाम देने के बाद सुसाइड का प्रयास

घरेलू हिंसा मामले की आखिरी सुनवाई 12 दिसंबर को हुई थी। तीन सप्ताह से अधिक समय पहले सेठ और उसका बेटा उत्तरी गोवा के कैंडोलिम में एक सर्विस अपार्टमेंट में चले गए थे, जहां उन्होंने कथित तौर पर अपने बेटे की हत्या कर दी। ये जानकारी भी सामने आई कि सूचना सेठ ने अपने बेटे की हत्या का इस जघन्य अपराध को अंजाम देने के बाद सुसाइड का प्रयास किया था। सूचना सेठ को मंगलवार को अपने बेटे के शव को भूरे रंग के बैग में भरकर भागते हुए पकड़ा गया था। गोवा पुलिस ने उन्हें कर्नाटक के चित्रदुर्ग में गिरफ्तार किया था। ऐसा तब हुआ जब गोवा सर्विस अपार्टमेंट के कर्मचारियों को उसके कमरे की सफाई करते समय खून से सना हुआ तौलिया मिला था। 

कमरे से दो खाली कफ सिरप की बोतलें मिलीं 

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक, बच्चे की हत्या गला दबाकर की गई थी। हिरियूर तालुक अस्पताल के प्रशासनिक अधिकारी डॉ. कुमार नाइक ने बताया, “बच्चे की मौत गला दबाकर की गई। ऐसा लग रहा है कि तकिया या किसी अन्य चीज का इस्तेमाल किया गया है। ऐसा नहीं लगता कि हाथों से गला घोंटा गया।” नाइक ने बताया कि बच्चे के शरीर से खून निकलने या फिर संघर्ष के निशान नहीं मिले हैं। पुलिस अधिकारियों को संदेह है कि पीड़ित को अक्षम करने के लिए कफ सिरप की हाई डोज दे दी गई है। अधिकारियों को सूचना सेठ के कमरे से दो खाली कफ सिरप की बोतलें मिलीं। ऐसे में पुलिस इन सभी एंगल से जांच कर रही है।

Latest India News





Source link

- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article